चीन की मंदी, भारत का मौका : अरविन्द

चीन की मंदी, भारत का मौका : अरविन्द

चीन की अर्थव्यवस्था इस वक़्त आर्थिक मंदी के दौर से गुजर रही है, और इस मंदी को देखते हुए हाल ही में वित्त मंत्रालय के आर्थिक सलाहकार अरविन्द सुब्रमण्यन ने यह कहा है कि चीन का यह मंदी के दौर हमारे लिए एक नया प्रयास शुरू करने का एक ऐतिहासिक अवसर साबित हो सकता है. साथ ही उनका यह भी कहना है कि चीन में उत्पादन करना अब पहले से कम फायदेमंद हो गया है इसके साथ ही भारत फायदा देने वाला तो साबित हो सकता है लेकिन ग्यारंटी देने वाला नहीं.

जहाँ एक ओर चीन की चाल धीमी पड़ रही है वहीँ दूसरी ओर यह भारत के लिए एक बेहतर अवसर हो सकता है क्योकि भारत एक शुद्ध आयातक है. अरविन्द ने यह जानकारी एक अध्ययन संस्थान के कार्यक्रम के दौरान साझा की है. इसके अलावा उनका यह भी कहना है कि अनुबंधों के तहत विनिर्माण करने वाली वहां की कंपनियां जैसे फॉक्सकॉन और शियोमी का भारत में निवेश करना इस बात को दर्शाता है कि चीन में काम करने वाली कंपनियां भी भारत का सहारा लेना चाहती है.