आगरा गैंग का एक और कृत्य आया सामने, कर रहे थे नशीली चीजों का कारोबार

Jul 31 2020 01:52 PM
आगरा गैंग का एक और कृत्य आया सामने, कर रहे थे नशीली चीजों का कारोबार

आगरा: देश के राज्य उत्तर प्रदेश से बीते कुछ दिनों से चौंका देने वाले मामले सामने आ रहे है. वही इस बीच आगरा गैंग का सरगना विक्की अरोड़ा कमला नगर के कर्मयोगी एन्क्लेव का है. इसी एन्क्लेव का दवा माफिया नकली मीकासिन इंजेक्शन की सप्लाई करता है. दोनों के बीच संबंध भी हैं. उधर पुलिस को आगरा गैंग के सात लोगों की खोज है. इनमें पांच आगरा के हैं और दो मथुरा के है. 

बता दे की नकली मीकासिन इंजेक्शन एक वर्ष पूर्व आगरा के ही निबोहरा थाना क्षेत्र में चेकिंग के दौरान पकड़े गए थे. इसमें सात लोग हिरासत में लिए गए थे. रैकेट का सरगना कर्मयोगी एन्क्लेव का है. यह मामला बाद में दब गया. अब पंजाब पुलिस ने जितेंद्र उर्फ विक्की अरोड़ा को रिमांड पर लेकर पूछताछ की तो इसकी सुचना प्राप्त हुई. पंजाब पुलिस ने यह सुचना आगरा पुलिस को दी है. आगरा के एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने अपने बयान में बताया कि पंजाब पुलिस से प्राप्त जानकारी पर जांच पड़ताल की जा रही है. दवा माफियाओं पर दर्ज मामले का ब्योरा जुटाया जा रहा है. इनकी हिस्ट्रीशीट ओपन की जाएगी.

साथ ही पंजाब पुलिस को विक्की अरोड़ा ने बताया कि आगरा गैंग के साथ-साथ मथुरा गैंग जुड़ा है. पंजाब पुलिस के एक अफसर ने अपने बयान में बताया कि विक्की से सात लोगों की सुचना प्राप्त हुई है. ये लोग अपने असली नाम छिपाकर रखते हैं. चार के नाम सौरभ हैं और तीन के गौरव. सात में से पांच आगरा के हैं और दो मथुरा के. वही पंजाब के बरनाला की पुलिस विक्की को बुधवार रात अपने साथ ले गई. उसे गुरुवार को कोर्ट में पेश किया. वहां से जेल भेज दिया गया. पुलिस उसका फिर से रिमांड लेने के लिए अर्जी देगी. वही पुलिस द्वारा निरंतर जांच की जा रही है.

आपदा पीड़ितों से मिलकर लौट रहे MLA धामी के साथ हुआ हादसा

बेंगलुरु में कंटेनमेंट इलाकों की संख्या 19 हजार के पार पहुंची

सुशांत मौत मामले में नया मोड़, रिया चक्रवर्ती को बताया गया 'सुपर किलर'