मासूम ऐलन हुआ सुपुर्द-ए-खाक, यूरोप में शरणार्थी मुद्दे पर छिड़ी बहस

सुरूक (तुर्की) : समुद्र में डूबने से मारे गए सीरियाई बच्चे के पिता ने आज वापस सीरिया लौटकर अपने पूरे परिवार को सुपुर्दे खाक कर दिया जबकि यूरोपीय संघ के सदस्य देशों के विदेश मंत्री शरणार्थी संकट को खत्म करने की दिशा में अपने शरण देने संबंधी बाध्यकारी कोटे को लेकर मतभेदों को दूर करने की कोशिश में लगे हुए हैं। समुद्र तट पर पड़े 3 साल के ऐलन कुर्दी के शव ने पूरी दुनिया को झकझोर कर रखा दिया है। ब्रिटेन ने कहा कि वह सीरियाई सीमा पर स्थित शरणार्थी शिविरों से हजारों और लोगों को अपने यहां शरण देगा। 

ऐलन के निर्जीव शरीर की तस्वीरों ने विभिन्न देशों के नेताओं पर कार्रवाई का दबाव बढ़ा दिया है। ऐलन के पिता ने बताया कि उसका परिवार नाव पर सवार था और जब समुद्र में नाव डूबी तब ऐलन और उसका एक और बेटा गालिब उसकी हाथों से फिसल गए। उसकी पत्नी की भी डूबने से मौत हो गयी। वह आज अपनी पत्नी और बच्चों के शवों के साथ सीरिया के सीमावर्ती शहर कोबाने लौटे। उन्होंने कहा, ‘अपने बच्चों को खोने वाले पिता के तौर पर मैं इस दुनिया से अपने लिए कुछ नहीं चाहता। मैं केवल इतना चाहता हूं कि सीरिया का संकट तत्काल खत्म हो जाए।

बढ़ते तनाव के बीच जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल और फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलोंद ने कल कहा कि वे इस बात पर सहमत हैं कि यूरोपीय संघ को अब अपने सदस्य देशों से तय संख्या में प्रवासियों को शरण देने के लिए कहना चाहिए। यूरोपीय संघ के अध्यक्ष ज्यां क्लोद जंकेर ने यूनान, इटली और हंगरी जैसे सीमावर्ती देशों का बोझ कम करने के लिए यूरोपीय संघ के देशों में 1,60,000 शरणार्थियों के पुनर्वास के लिए कोटे का प्रस्ताव आगे किए। बुडापेस्ट में पुलिस और सैकड़ों शरणार्थियों के बीच गहरा गतिरोध जारी रहा।

पुलिस ने शरणार्थियों को यूरोप के मुख्य गंतव्य जर्मनी की तरफ जाने के लिए उनकी ट्रेन यात्रा जारी रखने से रोक दिया। हंगरी की कथित चालबाजी से नाराज करीब 200 से 300 लोगों ने ट्रेन से उतरने से मना कर दिया। तुर्की में इस समय पड़ोसी देश सीरिया के संघर्ष के कारण वहां के 18 लाख शरणार्थी पनाह लिए हुए हैं। सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद के पुराने सहयोगी रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि यूरोप का शरणार्थी संकट पश्चिम एशिया में पश्चिमी देशों की नीतियों का परिणाम है जिसके जन्म लेने की पूरी उम्मीद थी और उन्होंने खुद इन परिणामों की चेतावनी दी थी। 

आयलान की तस्वीर आने के बाद पूरी दुनिया में हलचल मच गई है, आयलान की बोलती तस्वीर को देखकर हर किसी का कलेजा पसीज गया है। हर कोई अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहा है। कई सवाल उठ रहे है जिसने दुनिया को सोचने पर मजबूर कर दिया।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -