जे मंजुला बनी ''डीआरडीओ'' की पहली महिला महानिदेशक

Sep 10 2015 05:48 PM
जे मंजुला बनी ''डीआरडीओ'' की पहली महिला महानिदेशक

बेंगलुरु: भारत की बेटियां भी किसी से कम नही है तथा वह भी मर्दो के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल सकती है यही बानगी को चरितार्थ कर रही है जे मंजुला जो की उस्मानिया विश्वविद्यालय (हैदराबाद) में पढ़ी हैं व इलेक्ट्रानिक्स एवं संचार इंजीनियर है. मंजुला को रक्षा मंत्रालय के संस्थान रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) में महानिदेशक के पद पर नियुक्त किया गया है. तथा इस पद पर आसिन होने वाली यह पहली महिला है. 

मंजुला इससे पहले रक्षा वैमानिकी अनुसंधान प्रतिष्ठान (डीएआरई) का नेतृत्व कर रही थीं. और जुलाई 2014 से डीएआरई की निदेशक थीं। व 'डीआरडीओ' ने अपनी एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा की जे मंजुला ने प्रतिष्ठित वैज्ञानिक और महानिदेशक डॉ केडी नायक से इस पद का कार्यभार लिया है. तथा मंजुला के 'डीआरडीओ' में महानिदेशक के पद पर नियुक्त होने पर उन्हें हर किसी ने बधाई दी है.