कोरोना पर डॉ हर्षवर्धन का दावा- लॉकडाउन के कारण बची 37 से 78 हजार लोगों की जान

Sep 15 2020 03:37 PM
कोरोना पर डॉ हर्षवर्धन का दावा- लॉकडाउन के कारण बची 37 से 78 हजार लोगों की जान

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए लागू किए गए लाॅकडाउन को लेकर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार पर हमला कर रहा है। इस दाैरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने मंगलवार को उच्च सदन में देशव्यापी लॉकडाउन से हुए लाभ को गिनाया। डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि, लॉकडाउन ने तक़रीबन 14 लाख से 29 लाख मामलों और 37,000 से 78,000 मौतों को रोकने में सहायता की है।

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के चार महीनों का इस्तेमाल अतिरिक्त स्वास्थ्य ढांचा तैयार करने, मानव संसाधन को सशक्त करने और भारत में PPE, एन 95 मास्क और वेंटिलेटर जैसे महत्वपूर्ण सामानों के प्रोडक्शन  में किया गया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने यह भी कहा कि भारत में प्रति 10 लाख मृत्यु दर पूरी दुनिया में सबसे कम दरों में से है। इसके अलावा देश में रिकवरी रेट भी बहुत बेहतर हो गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने बताया कि भारत में कोरोना वायरस की वजह से डेथ रेट 1.67 फीसद और रिकवरी रेट 77.65 फीसद पहुंच गया है। डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि भारत मौत और कोरोना संक्रमण के मामलों को सीमित करने में सक्षम है। हमारे यहां प्रति दस लाख पर 3,320 केस और 55 मौते हैं। यह आंकड़ा दुनिया के मुकाबले बहुत कम है।

हिमाचल में एक टैक्सी चालक का हुआ मर्डर, ये है पूरा मामला

1 लाख लोगों को रोज़गार देगी ये दिग्गज कंपनी, वेतन होगा 1100 रुपए प्रति घंटा

सब्जियों की कीमतों में फिर लगी आग, आम जनता की थाली से गायब हुआ स्वाद