डबल मीनिंग कॉमेडी ने इस अभिनेता को बनाया था सुर्ख़ियों का राजा

उस दौर में जब बाला साहेब ठाकरे मराठी लोगों के लिए संघर्ष में लगे हुए थे तो वहीं दूसरी तरफ एक एक्टर मराठी सिनेमा के लिए जी तोड़ मेहनत करने में लगा हुआ था। उनकी मूवी डबल मीनिंग कॉमेडी होती थी लेकिन ये दर्शकों का ध्यान आकर्षित करने का सबसे बेहतर तरीका था। दादा कोंडके इसी तरीका का इस्तेमाल कर मराठी सिनेमा के सुपरस्टार बन चुके थे। दादा कोंडके का जन्म आज ही के दिन यानि 8 अगस्त 1932 को हुआ था। उन्हें आम आदमी के हीरो के रूप में भी पहचाना जाता है। कोंडके की कुछ मूवीज 25 सप्ताह तक सिनेमाघरों में चलाई गई। यह गिनीज बुक में एक रिकॉर्ड के रूप में दर्ज है।  

बता दें कि दादा कोंडके का असली नाम कृष्णा कोंडके था। उनका बचपन बहुत परेशानियों से भरा हुआ था। वो अपने दोस्तों के साथ छोटी मोटी गुंडागर्दी किया करते थे।  दादा ने एक बार बोला था कि वो ईंट, पत्थर, बोतल का उपयोग अपने झगड़ों में करते थे। राजनीति से दादा को बहुत लगाव था इसलिए वो इसमें भी खूब दखलंदाजी किया करते थे। मराठियों के अधिकारों के लिए वो शिवसेना के साथ जुड़ गए। शिवसेना की रैलियों में दादा कोंडके भीड़ जुटाने का कार्य भी करते थे। इसके साथ ही अपने प्रतिद्वांदियों पर जमकर हमला भी बोलते थे।

इतना ही नहीं दादा कोंडके अपने मराठी नाटक 'विच्छा माझी पूरी करा' के लिए भी पहचाने जाते थे। इस नाटक को कांग्रेस विरोधी कहा जाता है। क्योंकि इस नाटक में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का मजाक उड़ाया गया था। दादा कोंडके ने इस नाटक के 1100 से अधिक स्टेज शो किए थे। 1975 में आई दादा कोंडके की मूवी  'पांडू हवलदार' बहुत ही ज्यादा चर्चित रही थी। जिसमे उन्होंने लीड रोल निभाया। इस मूवी के बाद से ही हवलदारों को पांडु भी बोला जाने लगा। उनकी अन्य चर्चित फिल्मों में 'सोंगाड्या', 'आली अंगावर' प्रमुख हैं।

मराठी मूवीज में गायक महेंद्र कपूर और दादा कोंडके की जोड़ी खूब जमी। दादा कोंडके के लिए महेंद्र कपूर के गाए हुए गीत मराठी सिनेमा में बहुत लोकप्रिय हो गए। दादा कोंडके हास्य कलाकार थे और अपनी मूवीज में डबल मीनिंग कॉमेडी का उपयोग भी किया करते थे। यही वजह थी कि वह लोगों के मध्य मशहूर होते चले गए। दाद कोंडके की मराठी मूवीज के टाइटल भी इतने अश्लील होते थे कि सेंसर बोर्ड उन्हें पास करने में शर्म से पानी पानी हो जाता था। कोंडके की मूवीज के देखकर उन्हें पास करना सेंसर बोर्ड के लिए सबसे बड़ी चुनौती हुआ करता था।

अफेयर के 58 साल बाद मुमताज ने किया खुलासा, क्यों नहीं की थी शम्मी कपूर से शादी?

मीका के साथ नहीं दिखी होने वाली दुल्हनिया तो फैंस ने कह डाली ये बात

विवादों से बचने के लिए मेकर्स ने बदला कियारा और कार्तिक की अपकमिंग मूवी का नाम

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -