दशहरे पर भूलकर भी न करें ये 5 गलतियां वरना...

आज यानी 5 अक्टूबर को देशभर में दशहरा का त्यौहार मनाया जा रहा है। इस दिन को अच्छाई पर बुराई की जीत का पर्व बोलते हैं। इस दिन जहां मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था। वहीं, श्रीराम ने रावण का वध किया था। इसी की याद में यह विजयोत्सव मनाया जाता है। वही आज कुछ कार्य ऐसे है जो आपको भूलकर भी नहीं करना चाहिए अन्यथा इसका भारी खामियाजा भुगतना पड़ सकता हैं। 

इस दिन भूलकर भी 5 कार्य कार्य नहीं करना चाहिए:-

1- बुराई से दूर रहें:- किसी को नुकसान पहुंचाने से बचें तथा कोई भी गलत कार्य नहीं करें। जैसे शराब पीना या जुआ खेलना।

2- किसी का अपमान न करें:- विजयादशमी के दिन भूलकर भी किसी स्त्री या बड़े-बुजुर्ग का अपमान करने से मां लक्ष्मी आपसे रुष्ट हो जाएंगी।

3- पेड़ न काटे:- विजयादशमी के दिन वृक्ष काटना शुभ नहीं माना जाता। इस दिन वृक्ष काटने से व्यक्ति का स्वास्थ्य खराब होता है।

4- जीवों की हत्या न करें:- मांसाहार के लिए किसी भी जीव-जंतु की हत्या करने से आपका सौभाग्य दुर्भाग्य में बदल जाएगा।

5- झूठ और असत्य न बोलें:- विजयादशमी असत्य पर सत्य की जीत का दिन है। इसलिए झूठ बोलने या असत्य का साथ देने से बचें।

इसके साथ ही इस दिन कई परंपराएं निभाई जाती हैं जैसे रावण के पुतलों का दहन, शमी पूजा, जवारे विसर्जन तथा शस्त्र पूजा आदि। शस्त्र पूजा विजयादशमी पर निभाई जाने वाली एक अनिवार्य परंपरा है। इस परंपरा का पालन क्षत्रिय परिवारों में व पुलिस एवं सेना विभाग में किया जाता है। यानी जो विभाग एवं समाज अस्त्र-शस्त्र का इस्तेमाल करते हैं, वही ये परंपरा निभाते हैं। 

देशभर में कई तरह से मनाया जाता है दशहरा, देखें 10 अनोखी तस्वीरें

दशहरे पर खरगोन में धारा 144 लागू, रामनवमी पर हुआ था विवाद

‘महाकाल लोक’ के दूसरे चरण का रोड मैप तैयार, महाराजवाड़ा भवन को मिलेगा हैरिटेज रूप

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -