कोरोना वायरस : अमेरिकी नागरिकों को मिला अब तक का सबसे बड़ा राहत पैकेज

कोरोना वायरस : अमेरिकी नागरिकों को मिला अब तक का सबसे बड़ा राहत पैकेज

दुनिया के ताकतवर देशों में शामिल अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कोरोनावायरस से प्रभावित अर्थव्यवस्था के लिए शुक्रवार को दो हजार अरब डॉलर के आर्थिक पैकेज की घोषणा की. यह अमेरिका के इतिहास का सबसे बड़ा आर्थिक पैकेज है. ट्रंप ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि इस आर्थिक पैकेज से तत्काल राहत की जरूरत को पूरा किया जाएगा. उन्होंने कहा कि इस फंड के जरिए अमेरिका अपने छोटे एवं बड़े बिजनेसेज को मजबूत बनाएगा. समाचार एजेंसी ब्लूमबर्ग की खबर के मुताबिक इस योजना के तहत पैसे डाले जाने से बड़ी कंपनियों, छोटे कारोबारियों एवं ऐसे लोगों को मदद मिलेगी, जिनकी आय वायरस को रोकने के लिए किए गए उपायों की वजह से थम गया है.

कोरोना के प्रकोप में इस कंपनी ने पेश की मिसाल, बढ़ाया कर्मचारीयों का वेतन

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि अमेरिका कोरोनावायरस के नए केंद्र के तौर पर उभरा है, जहां एक लाख से अधिक लोग संक्रमित बताए जा रहे हैं. संक्रमण के मामले में अमेरिका, चीन से भी आगे निकल गया है. उल्लेखनीय है कि तीन दिन चढ़ने के बाद शुक्रवार को शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुए थे. कारोबारियों ने आर्थिक पैकेज की घोषणा से पहले मुनाफावसूली की. इस दौरान S&P 500 में 3.4% और Dow में 4.1% की गिरावट दर्ज की गई.

क्या गिरे हुए टैक्स कलेक्शन से हो पाएगा कोरोना वायरस का मुकाबला ?

इसके अलावा ट्रंप ने कांग्रेस से पैकेज को जल्द-से-जल्द अंतिम रूप देने का आग्रह किया. इससे पहले उन्होंने कहा था कि वह मेहनतकश परिवारों एवं छोटे कारोबारियों को वित्तीय मदद देंगे. वही, अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले दीर्घकालिक असर को देखके हुए ट्रंप फेडरल गाइलाइंस में ढील देने पर विचार कर रहा हैं. हालांकि, कई गवर्नर्स, पब्लिक हेल्थ एक्सपर्ट और उनकी सरकार के कुछ सदस्य भी पाबंदियों को लंबे समय तक जारी रखने के पक्ष में हैं.

कोरोना से जंग के लिए आगे आई सन फार्मा कंपनी, दान करेगी 25 करोड़ की दवाएं व सैनिटाइजर

लॉकडाउन के दौरान व्यापारी पर गोली चलने वाला पुलिसकर्मी गिरफ्तार, भेजा गया जेल

भारत: इस कंपनी ने 1 करोड़ डेटॉल साबुन का वितरण करने का किया फैसला