बिना योनि के जन्मी थी, 17 की उम्र में पाई कृत्रिम योनि

जयपुर: विज्ञान की तरक्की का एक और नमूना आज राजस्थान के जयपुर में देखने को मिला, जहाँ डॉक्टरों ने बिना योनि के जन्मी एक नाबालिग लड़की का ऑपरेशन किया. यह मामला थोड़ा अजीब हो सकता है लेकिन पूर्णतः सत्य है. सवाई मान सिंह हॉस्पिटल में एक 17 वर्षीय लड़की को उसके परिजन इलाज के लिए लेकर आए थे, समस्या ये थी कि 17 वर्ष की होने के बाद भी लड़की को माहवारी शुरू नहीं हुई थी.

जब डॉक्टरों ने लड़की की जांच की तो पता चला कि लड़की की योनि और गर्भाशय ही नहीं है,  लेकिन उसके अंडाशय पूरी तरह से स्वस्थ थे, इस कंडीशन को जनन मार्ग में पैदाइशी विकृती (congenital malformation of genital tract) के तौर पर जाना जाता है. जिसके बाद स्त्री रोग विशेषज्ञ और सीनियर प्रोफेसर ओबी नागर की अध्यक्षता में लेप्रोस्कोपिक सर्जरी द्वारा लड़की की कृत्रिम योनि बनाई.

डॉक्टर ने बताया कि पहले ऐसी किसी भी तरह की सर्जरी के लिए जांघों की स्कीन या टिश्यू का इस्तेमाल किया जाता था, लेकिन इस केस में बाद में चलकर योनि के अंदर बाल उग आने की संभावना थी जो कि हानिकारक होती, इससे इन्फेक्शन का खतरा भी बना हुआ था. डॉक्टर नागर ने सफल ऑपरेशन के बाद बताया कि लड़की अभी पूर्णतः स्वस्थ है और जल्द ही उसे अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया जाएगा. लड़की के परिजन उसकी शादी करना चाहते है, लेकिन डॉक्टरों ने बताया है कि लड़की कभी माँ नहीं बन पाएगी, लेकिन अंडाशय होने से वो सेरोगेसी द्वारा माँ बन सकती है.

आतंकवाद निरोधक सम्मेलन में शामिल होगा भारत

लखनऊ की जहरीली हवा, रोज निगल रही 11 जिंदगियां

शहीद दीपक नैनवाल को तीन साल के बेटे ने दी मुखाग्नि

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -