क्या आपका भी ऑफिस में काम करने में नहीं लगता है मन? तो अपना लें ये उपाय, मिलेगा फायदा

क्या आपका भी ऑफिस में काम करने में नहीं लगता है मन? तो अपना लें ये उपाय, मिलेगा फायदा
Share:

यदि आपका ऑफिस पहुंचकर मन नहीं लगता, बिना कारण का तनाव हावी रहता है या सीट पर बैठते ही बोरियत महसूस होने लगती है, तो थोड़ा रुककर अपने डेस्क की ओर एक नजर घुमाकर देखिए। हो सकता है आपकी इन समस्याओं का संबंध वास्तु दोष से जुड़ा हो। इन्हें दूर करने से आपका काम में भी मन लगेगा तथा दिनभर आप पूरे उत्साह और खुशी के साथ अपने काम में मन लगा भी सकेंगे।

अपनी डेस्क को व्यवस्थित रखें
अव्यवस्थित डेस्क पर काम करने से एकाग्रता में बाधा आ सकती है और मानसिक बेचैनी हो सकती है। वास्तु शास्त्र के अनुसार, आपकी डेस्क पर फ़ाइलों या बिखरे हुए कागज़ों का ढेर सकारात्मक ऊर्जा प्रवाह को बाधित करके आपके काम को प्रतिकूल रूप से प्रभावित कर सकता है। इससे काम अधूरे रह सकते हैं और तनाव बढ़ सकता है। अपनी डेस्क को साफ-सुथरा रखने से ऊर्जा का सकारात्मक प्रवाह बढ़ सकता है। इसके अतिरिक्त, किसी देवता की छोटी तस्वीर या मूर्ति रखने से सकारात्मक ऊर्जा बढ़ सकती है। जिन लोगों की कुंडली में जल तत्व कमज़ोर है, उनके लिए डॉल्फ़िन या इसी तरह की छवियाँ लाभकारी हो सकती हैं।

ऐसी रखें आस-पास सजावट
अपने ऑफ़िस डेस्क पर रोते हुए बच्चे, महिलाएँ, टूटे हुए घर, डूबते जहाज़ या आग से जुड़ी तस्वीरें या आइटम रखने से बचें। ये आपके आस-पास नकारात्मक ऊर्जा बढ़ा सकते हैं। इसके बजाय, अपने कार्यस्थल को शांत प्रकृति की छवियों जैसे कि पौधे, सरपट दौड़ते घोड़े या उड़ते हुए पक्षियों से सजाने पर विचार करें। पूर्व या उत्तर-पूर्व दिशा की ओर मुंह करके बैठना भी करियर की सफलता के लिए शुभ हो सकता है, जो संभावित रूप से उपलब्धि की नई ऊँचाइयों की ओर ले जाएगा।

उचित प्रकाश व्यवस्था सुनिश्चित करें
आप जिस जगह काम करते हैं, वहाँ की प्रकाश व्यवस्था की गुणवत्ता आपकी उत्पादकता को काफ़ी हद तक प्रभावित करती है। खराब रोशनी आँखों पर ज़ोर डालती है, जबकि अत्यधिक चमकीली या मंद रोशनी वास्तु दोष में योगदान दे सकती है। सही प्रकाश व्यवस्था न केवल बेहतर दृश्यता का समर्थन करती है, बल्कि आपके स्थान में सकारात्मक ऊर्जा संतुलन बनाए रखने में भी मदद करती है।

सकारात्मक ऊर्जा के लिए पौधे लाएँ
हर किसी का काम करने और अपने कार्यस्थल को सजाने का अपना तरीका होता है। अपने डेस्क को और अधिक सुंदर और ऊर्जावान रूप से सकारात्मक बनाने के लिए, छोटे पौधे लगाने पर विचार करें। हरा रंग एक सुखदायक रंग माना जाता है जो तनाव को कम कर सकता है और आपको खुश रख सकता है। अंत में, अगर आपको अपने डेस्क के आस-पास पेन और पेंसिलें बिखरी हुई छोड़ने की आदत है, तो वास्तु सिद्धांतों के अनुसार इसे रोकना उचित है। यह अभ्यास कार्यों को समय पर पूरा करने में बाधा उत्पन्न कर सकता है।

इन समायोजनों को करके, आप अपने कार्यालय के वातावरण को उत्पादकता और कल्याण के लिए अधिक अनुकूल स्थान में बदल सकते हैं। अपने कार्यस्थल में वास्तु दोष को संबोधित करना न केवल आपके पेशेवर जीवन को बढ़ाता है, बल्कि आपके पूरे कार्यदिवस में शांति और संतुष्टि की भावना को भी बढ़ावा देता है।

गर्मियों में नहीं पच रहा खाना तो डाइट में करें ये बदलाव, तुरंत मिलेगी राहत

गर्मी के मौसम में चिकन खाएं या नहीं? जानिए एक्सपर्ट्स की राय

इको-फ्रेंडली डाइट से मौत खतरा होगा कम! रिसर्च में हुआ खुलासा

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -