सेक्स से दौरान नहीं चाहते अनचाहा गर्भ, तो इन बातों का रखें ध्यान

सेक्स से दौरान नहीं चाहते अनचाहा गर्भ, तो इन बातों का रखें ध्यान

यौन स्वास्थ या यौन समस्याओं पर बात करने में लोग संकोच करते हैं। महिलाओं को गर्भनिरोधक के उपयोग के बारे में पूरी तरह से शिक्षित नहीं किया जाता है जिस कारण कभी कभी वे चाहकर भी असमर्थ महसूस करती हैं। गर्भावस्था को रोकने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले तरीकों या उपकरणों को जन्म नियंत्रक, गर्भनिरोधक या परिवार नियोजन कहा जाता है। प्राचीनकाल से गर्भनिरोधक का उपयोग किया जाता रहा है, लेकिन इसके प्रभावी और सुरक्षित तरीके 20 वीं शताब्दी में उपलब्ध हो पाए हैं।

2005-2006 के आंकड़ों से यह निष्कर्ष निकला है कि भारत में गर्भनिरोधक का उपयोग केवल 15.6% महिलाओं द्वारा किया जाता था। हालांकि भारत में गर्भनिरोधकों का उपयोग धीरे-धीरे बढ़ रहा है। 1970 में, 13% विवाहित महिलाओं द्वारा आधुनिक गर्भनिरोधक विधियों का इस्तेमाल किया गया, जो 2007 तक 35% और 2009 तक 48% बढ़ गया है।

1952 में भारत, परिवार नियोजन कार्यक्रम शुरू करने वाला दुनिया का पहला देश बन चुका है। उल्टा लाल त्रिभुज (Inverted red triangle) भारत में, परिवार नियोजन स्वास्थ्य और गर्भनिरोधक सेवाओं का प्रतीक है। इस लेख का उद्देश्य भारत में उपलब्ध सरल और सुरक्षित गर्भनिरोधक विधियों की जानकारी का प्रसार करना है। 

प्रेगनेंसी रोकने के उपाय -  ऐसे कई तरीके हैं जो सुरक्षित हैं और उनका उपयोग करना भी आसान है -

1. गर्भनिरोधक प्रत्यारोपण 
2. गर्भनिरोधक पैच 
3. गर्भनिरोधक गोली
4. गर्भनिरोधक शॉट 
5. गर्भनिरोधक स्पंज
6. गर्भनिरोधक रिंग 
7. स्तनपान गर्भनिरोधक विधि 
8. सर्विकल कैप 
9. कंडोम 

SEX TIPS: कही आप भी तो शीघ्र पतन का शिकार नहीं

CORONAVIRUS: सेक्स को लेकर विशेषज्ञों की बड़ी राय, न करें सेक्स वरना हो सकता है जान का ख़तरा 

सावधान! यदि बचना है कोरोना से तो भूलकर भी न करें सेक्स