भूलकर भी पति-पत्नी को नहीं बनाने चाहिए इन दिनों में संबंध, हो जाएगी मौत

Feb 06 2019 05:40 PM
भूलकर भी पति-पत्नी को नहीं बनाने चाहिए इन दिनों में संबंध, हो जाएगी मौत

शारीरक संबंध बनाने की बात की जाए तो आज के समय में लोग दिनों का ध्यान रखे बिना कभी भी और किसी भी दिन शारीरिक संबंध बना लेते हैं. ऐसे में हिन्दू धर्म में ब्रह्मवैवर्तपुराण के अनुसार कुछ ऐसे दिन भी हैं जिस दिन पति-पत्नी को किसी भी रूप में शारीरिक संबंध स्थापित नहीं करने चाहिए और अगर वह ऐसा करते हैं तो दोनों में से किसी एक के बुरे दिन शुरू हो जाते हैं और बात मौत तक पहुँच जाती है. जी हाँ, आज हम आपको उन अशुभ दिनों के बारे में बताने जा रहे हैं. जब पति-पत्नी के बीच शारारिक संबंध को वर्जित माना गया है और अगर वह ऐसा करते हैं तो यह पाप माना जाता है.

# कहते हैं शास्त्रों के अनुसार अमावस्या के दिन पति-पत्नी को एक दूसरे के साथ शारीरिक संबंध नहीं बनाने चाहिए क्योंकि इससे उनके वैवाहिक जीवन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और आगे का जीवन खराब होता चला जाता है.

# कहते हैं पूर्णिमा की रात में भी वैवाहिक दंपत्ति को एक-दूसरे से अलग ही रहना चाहिए यानी संबंध नहीं बनाने चाहिए क्योंकि इससे किसी एक की मौत होना संभव माना जाता है. # कहते हैं संक्रांति का समय भी पति-पत्नी की नजदीकी का समय नहीं है और इस दौरान नजदीक आना उनके लिए हितकर नहीं है इसी कारण इन दिनों भी संबंध से दूर रहना चाहिए.

# कहा जाता है पुराणों के अनुसार रविवार के दिन भी पति-पत्नी को एक-दूसरे से दूर ही रहना चाहिए. जी हाँ, क्योंकि शारीरिक संबंधों के लिए भी यह समय शुभ नहीं है और रविवार के दिन जो भी संबंध बनाता है उसे पाप का भागीदार माना जाता है.

जिसके पैर पर होता है यह निशान वह राजा की तरह जीता है जिंदगी

इस वजह से बिल्ली के रास्ता काटने को माना जाता है अपशकुन

इन लोगों पर हर दिन होती है बृहस्पति की विशेष कृपा