हनुमान, विष्णु और अन्य देवताओं को भोग लगाते समय भूल से भी ना करें ये गलती

आज मंगलवार का दिन है और आज के दिन हनुमान जी का पूजन किया जाता है। कहा जाता है हनुमान जी हर कष्ट को हरने वाले देवता है और आज भी वह धरती पर जीवित हैं। आपको बता दें कि भगवान की पूजा में कुछ चीजें विधि-विधान से की जाती है और उन्हें फूल माला, कुमकुम, अबीर आदि चीजें अर्पित करते हैं और भोग भी लगाते हैं। हालाँकि आपको शायद ही पता होगा कि जिस प्रकार हम सभी को भोजन में अलग-अलग वस्तुएं पसंद होती है उसी प्रकार भगवान को भी अलग-अलग चीजें पसंद होती है और उन्हें अलग-अलग चीजों का भोग लगता है। जी हाँ और अगर भोग लगाने में कोई भी गलती होती है, तो भगवान नाराज हो जाते हैं। आज हम आपको उसी के बारे में बताने जा रहे हैं।

हनुमान जी का भोग- हनुमान जी को हलुआ, पंचमेवा, गुड़ से बने लड्डू का भोग लगाना चाहिए।

गणेश जी का भोग- गणेश पूजा में उन्हें मोदक, बेसन और बूंदी के लड्डू का भोग लगाएं।

विष्‍णु जी का भोग- भगवान विष्णु को खीर या सूजी के हलवे का भोग लगाना चाहिये और उनके भाग में तुलसी जरुर डालें।

शिव जी का भोग- भगवान शिव को भांग और पंचामृत का भोग लगाया जाता है। इसी के साथ उन्हें गुड़, चना और चिरौंजी का भोग भी लगा सकते हैं।

लक्ष्‍मी जी का भोग- देवी लक्ष्मी को धन की देवी कहा जाता है। उन्हें खीर या सफेद रंग की मिठाई का भोग लगना चाहिए।

दुर्गा माता का भोग- मां दुर्गा को बुधवार और शुक्रवार के दिन विशेष प्रकार का नैवेद्य अर्पित किया जाता है। मां दुर्गा को भोग लगाने के लिये, केला, नारियल, मीठा हलवा, मालपुए को शामिल कर सकते हैं।

8 या 9 अप्रैल कब है रामनवमी? जानिए सही तिथि और श्रीराम के पूजन का शुभ मुहूर्त-विधि

बहुत चमत्कारी है शिव जी के ये मंत्र, जाप से हर मनोकामना होगी पूरी

आखिर क्यों नवरात्रि के 9 दिनों में नहीं होते विवाह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -