बच्चो पर न डाले पढाई के लिए दबाव

क्या आप जानते हैं कि आप अपने बच्चे पर किसी भी चीज का खासकर पढ़ाई का दबाव बनाकर उसको न तो पढ़ा सकते हैं और ना ही उससे कोई काम करवा सकते हैं. आपको चाहिए कि आप अपने बच्चे से प्यार से ट्रीट करें. आइए जानें बच्चों पर पढ़ाई का दबाव डालने से बच्चों को क्या नुकसान हो सकता है.

1-बच्चों पर किसी भी चीज का दबाव नहीं डालना चाहिए, खासकर पढ़ाई का. इससे बच्चों पर नकारात्मक असर पड़ता है.

2-बच्चों को किसी चीज के लिए मना किया जाता है, तो जिज्ञासावश उन्हें वो काम करने में बहुत मजा आता है. उन्हें अगर प्यार से किसी चीज को विस्तार से समझाया जाता है तो वे उसे आराम से मान जाते है. यही बात पढ़ाई पर भी लागू होती है यदि बच्चे को बार-बार पढ़ने के लिए दबाव बनाया जाता है तो वे पढ़ाई से दूर भागने लगते हैं और उनको वो चीज बोरिंग लगने लगती है.

3-पढ़ाई का दबाव बनाने की बजाय आपको अपने बच्चे को अपने साथ बैठकर खेल-खेल में मनोरंजक तरीके से बच्चे को पढ़ाना चाहिए इससे बच्चा भी पढ़ने में रूचि लेगा और आपकी बात भी मानेगा.

4-बच्चों पर पढ़ाई का दबाव बनाने से उनमें तनाव आने की आशंका बढ़ जाती है. बढ़ती उम्र और पढ़ाई के दबाव के कारण कई बार बच्चे ऐसे निर्णय कर लेते हैं जो ना सिर्फ उनके लिए घातक हो सकते हैं बल्कि उनके अपने परिवार के लिए भी खतरनाक बन जाते हैं.

5-बच्चे पढ़ाई के प्रेशर, तनाव और डिप्रेशन के चलते आत्महत्या करने तक का निर्णय ले लेते हैं.

शिशु का रोना है उसके बेहतर स्वास्थ्य की...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -