भूलकर भी महिलाएं यह काम न करें वरना मुसिबत पड़ जाएगी पीछे

शास्त्र मानव जीवन को एक उचित राह पर लाने के लिए बनाया गया है। इसमें हर वह सवाल का जवाब होता है जो अमातौर पर किसी व्यक्ति के पास नहीं होता। बहुत सी बातों का वर्णन हमे शास्त्र के माध्यम से मिलता है। ऐसा ही एक शास्त्र है मनुस्मृति जिसमें जीवन के कई विधि-विधान का वर्णन किया गया है, इतना ही नहीं जीवन को सुखमय बनाने के लिए भी कई उपाये बताये गये हैं उन्ही में से ढूंढ कर आज हम आपको कुछ ऐसे उपाये बताने जा रहे हैं जो कि खासकर महिलाओं के लिए हैं। दरअसल महिलाएं अंजाने में कुछ ऐसी गलतियां कर बैठती हैं जिसका उन्हे नुकसान झेलना पड़ता हैं और आज हम आपसे इन्ही गलतियों के बारे में चर्चा करने वाले हैं। तो चलिए देखते हैं कौन से वह काम है जो महिलाओं को नहीं करना चाहिए।

शराब का सेवन- मनुस्मृति के अनुसार महिलाओं को शराब का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे अच्छे-बुरे का कुछ पता नहीं चलता है। जिसके कारण कभी-कभी एक आचरण सबके सामने पेश हो जाते है। जो कि समाज की नजर से सही नहीं माने जाते है। इसलिए महिलाओं को पुरुषों की तरह शराब नहीं पीनी चाहिए।

दुष्ट व्यक्ति की संगत- इस बारें में मनु स्मृति में कहा गया है कि ऐसे लोगों से संगत करना आपके आने वाले कल के लिए काल बन सकता है। आप किसी बड़ी मुश्किल में फंस सकते है। वह आपका उपयोग अपने किसी निजी हित के लिए भी कर सकता है। साथ ही स्वभाव में भी आपके परिवर्तन आ सकता है।

पति से अलग रहना- शास्त्रों के अनुसार माना जाता है कि पत्नी को पति से अलग नहीं रहना चाहिए। अगर पति पर कोई संकट आए तब भी उसे छोड़कर नहीं जाना चाहिए। अगर कोई महिला अलग रहती है तो उसके चरित्र को लेकर उंगली उठाई जाती है। जो कि उसके चरित्र में दाग लगाती है। इसलिए पति से अलग नहीं रहना चाहिए।

बेवजह इधर- उधर घूमना- इस बारें में शास्त्रों में कहा गया है कि जो महिला ऐसा करती है वह पूरी तरह से स्वच्छंद हो जाती है। जिसके बाद वह किसी का भी कहना नहीं मानती है। जिसके कारण दोनों कुलों के मान में दाग लगता है। इसलिए चरित्र की लाज के लिए इधर-उधर नहीं घूमना चाहिए।

देर तक सोना- शास्त्रों के अनुसार माना जाता है कि महिलाओं का असमय और देर तक सोना परिवार में क्लेश लाता है। ऐसी महिलाएं परिवार की जिम्मेदारी नहीं ले पाती है। जिसके कारण परिवार के लोगों के मन में उसके प्रति असंतोष बढ़ने लगता है। अगर आप विवाहित है, तो आपके दापत्यं जीवन में भी बहुत अधिक असर पड़ता है। इसलिए असमय और देर तक नहीं सोना चाहिए।

दूसरे के घर पर रहना- शास्त्रों के अनुसार माना जाता है कि किसी भी स्त्री को अगर दूसरे घर जाना है, तो वह घर पति का होता है। अगर पति के घर में किसी भी प्रकार की समस्या भी हो, तो उसे दूसरे के घर पर नहीं रहना चाहिए। अगर स्त्री दूसरे के घर पर रहती है, तो उसके चरित्र पर दोष लगने की संभावना रहती है। इसलिए किसी भी महिला को दूसरे के घर पर नहीं रहना चाहिए। 

 

संतान के रूप में पाना चाहते है लड़का या लड़की तो पढ़ लें यह खबर

महिलाओं के साथ दुर्वव्यवहार करने वाले को मिलती है ये भयानक सज़ा

सौभाग्यशाली होती है ऐसी महिलाएं जिनकी नाक पर होता है तिल

इसलिए जरूरी होता है मंदिर की परिक्रमा करना

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -