प्रेगनेंसी में खूब खाना पड़ सकता है भारी

गर्भवस्था के दौरान अधिक नहीं खाना चाहिए, खासकर गर्भावस्था के पहले छह महीनों के दौरान ज्यादा खाने से बचना चाहिए. इस दौरान अधिक भोजन लेने पर शरीर में वसा इकट्ठा हो जाता है, क्योंकि शुरुआती छह महीने में गर्भ में पल रहे शिशु को विकास के लिए वास्तव में इसकी जरूरत नहीं होती. हो सकता है आपको गर्भावस्था के शुरूआती दिनों में इच्छा ना होते हुए भी खाने की हिदायत दी जाये, ऐसे में थोड़ा-थोड़ा करके खायें.

अधिक खाने की वजह से जिन महिलाओं का वजन गर्भावस्था के दौरान आवश्यकता से अधिक बढ़ जाता है, उनका वजन आसानी से कम नहीं होता है. यहां तक की उनका वजन 16 साल बाद और तीन गुना बढ़ जाता है. कई बार तो गर्भावस्था के दौरान महिलाओं का जरूरत से ज्यादा भोजन करना उन्हें जिंदगीभर के लिए मोटापे का शिकार बना सकता है. 

गर्भावस्था में तले-भुने भोजन खाने से भी वजन बढ़ता है. यह न केवल गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है बल्कि इसका बुरा असर उनके होने वाली संतान के विकास पर भी पड़ता है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -