करवा चौथ व्रत के दौरान भूलकर भी ना करे ये काम, वरना हो सकता है अशुभ

प्रत्येक वर्ष कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को करवाचौथ का पर्व मनाया जाता है। इस दिन पति की लंबी उम्र के लिए महिलाएं उपवास रखती हैं तथा शाम को 16 श्रृंगार करके तैयार होती हैं एवं चंद्रमा का पूजन करती हैं। अर्घ्य देती हैं तथा छलनी से चांद को देखती हैं। तत्पश्चात, पति को तिलक करके, उनके पैर छूकर आशीर्वाद लेती हैं तथा पति के हाथों से जल ग्रहण करती हैं। फिर अपना उपवास खोलती हैं। ​इस साल ये 24 अक्टूबर 2021, रविवार को मनाया जाएगा। ये व्रत बेहद ही पवित्र है तथा पूरे दिन बिना पानी पिए भी कठोरता से मनाया जाता है। इसलिए व्रत की गंभीरता को बनाए रखने के लिए कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। 

करवा चौथ 2021: तिथि और समय:-
करवा चौथ पूजा मुहूर्त 17:43 – 18:58
करवा चौथ उपवास का समय 06:13 – 20:16
चतुर्थी 24 अक्टूबर से 03:01 बजे शुरू होगी
चतुर्थी 25 अक्टूबर को 05:43 बजे समाप्त होगी
चंद्रोदय 20:16
सूर्योदय 06:13
सूर्यास्त 17:43

क्या न करें?
* पूजा के लिए काले एवं सफेद रंग का सुझाव नहीं दिया जाता है, इसलिए महिलाओं को इन रंगों के कपड़े नहीं पहनने चाहिए।
* महिलाओं को दिन में नहीं सोना चाहिए क्योंकि ये शुभ नहीं होता है।
* इस दिन कैंची एवं सुई का इस्तेमाल करना वर्जित है।
* महिलाओं को किसी को चोट नहीं पहुंचानी चाहिए तथा अपनी जीभ पर कण्ट्रोल नहीं खोना चाहिए।
* इस दिन साज-सज्जा एवं श्रृंगार की चीजों का आदान-प्रदान ठीक नहीं है। इसलिए इन सभी बातों का अच्छी प्रकार से ख्याल रखें।

आज इन राशि के लोगों को होगा आर्थिक लाभ

शरद पूर्णिमा पर भूलकर भी न करें ये काम, वरना हो सकते है कंगाल

शरद पूर्णिमा के दिन ही श्रीकृष्ण ने गोपियों संग किया था महारास, 6 महीने तक नहीं हुई थी सुबह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -