भूलकर भी इस दिन ना खरीदें फर्नीचर वरना धीरे-धीरे हो जाएंगे गरीब

Sep 18 2019 04:40 PM
भूलकर भी इस दिन ना खरीदें फर्नीचर वरना धीरे-धीरे हो जाएंगे गरीब

कहा जाता है हिंदू धर्म में हफ्ते के सभी दिनों का अपना अलग महत्व माना जाता है. ऐसे में फर्नीचर घर का सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है और होम डैकोरेशान के लिए आजकल लोग नए-नए डिजाइन्स के फर्नीचर घर लेकर आते हैं. आप सभी को बता दें कि अगर हिंदू धर्म शास्त्रों की करें तो फर्नीचर घर में सुख शांति के साथ धन लाभ का भी कारण बनते हैं लेकिन इसके लिए फर्नीचर सजाने के साथ उसे किस दिन खरीद रहे हैं इस बात का भी ध्यान रखना बहुत जरूरी माना जाता हैं.

जी हाँ, क्योंकि शास्त्रों के मुताबिक फर्नीचर खरीदने का भी एक सही दिन होता हैं इसी के साथ अगर गलत दिन फर्नीचर खरीद लिया तो घर में अशांति, नकारात्मकता और धन हानि वही मानसिक परेशानी का कारण बन जाता हैं. इसी के साथ अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं फर्नीचर से जुड़े कुछ वास्तुटिप्स. जी दरअसल हिंदू धर्म शास्त्रों के मुताबिक मंगलवार, शनिवार और अमावस्या के दिन भूलकर भी फर्नीचर नहीं खरीदना चाहिए और केवल इतना ही नहीं बल्कि इन दिनों में लकड़ी का कोई भी सामना घर नहीं लाना चाहिए. क्योंकि कहा जाता है इससे घर में वास्तुदोष बढ़ सकता हैं.

कहते हैं सोमवार और बुधवार के दिन फर्नीचर खरीदना शुभ माना जाता हैं क्योंकि इस दिन फर्नीचर खरीदने से सुश शांति बनी रहती हैं. लकड़ी के फर्नीचर को हमेशा ही दक्षिण या पश्चिम दिशा से शुरुआत करके उत्तर या फिर पूर्व दिशा में समाप्त करना अच्छा माना जाता हैं. इसी के साथ व्यापार या कारोबार में सफलता के लिए तो लकड़ी की बजाए स्टील के फर्नीचर का प्रयोग करना चाहिए, और अगर फर्नीचर हल्का हैं तो उसे पूर्व या उत्तर दिशा में रख सकते हैं. इसी के साथ भारी फर्नीचर को दक्षिण और पश्चिम दिशा में रखें. कहा जाता है ऐसा करने से पैसों का नुकसान नहीं होता हैं, और कोई परेशानी नहीं आती.

अगर आपके घर में भी हैं ऐसे दरवाजे तो आप हो जाएंगे गरीब

इस सप्ताह के ख़ास व्रत में जीवित्पुत्रिका व्रत से लेकर मातृ नवमी तक है शामिल

करोड़पति बना देंगी आपको तीन झाड़ू, करना होगा यह एक काम