तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के रूप में डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन ने ली शपथ

डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन ने शुक्रवार को सुबह नौ बजे तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। शपथ समारोह की शुरुआत चेन्नई के राजभवन में 33 मंत्रियों के साथ हुई।

हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में डीएमके ने 234 सदस्यीय विधानसभा में 133 सीटें जीती थीं। डीएमके प्रमुख स्टालिन गृह, सामान्य प्रशासन, विशेष पहल, विशेष कार्यक्रम कार्यान्वयन और दिव्यांग व्यक्तियों के कल्याण सहित कई विभागों का कार्यभार संभालेंगे। जबकि एआईएनआरसी नेता एन रंगसामी आज केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। एआईआरसी-बीजेपी गठबंधन ने 30 सदस्यीय प्रादेशिक विधानसभा में 16 सीटें जीतीं। स्टालिन के बेटे उद्धविधि मंत्रियों की सूची में नहीं हैं। चेन्नई के पूर्व मेयर एमए सुब्रमण्यन को मेडिकल एंड फैमिली वेलफेयर पोर्टफोलियो सौंपा गया है और जल संसाधन डीएमके के महासचिव एस दुरीमुरुगन को दिए गए हैं। उधानिधि के करीबी एड अंबिल महेश पोयामोझी को स्कूल शिक्षा विभाग का प्रभार दिया गया है। एस रघुपति विधि विभाग संभालेंगे, आर सकरापानी खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री, सूचना प्रौद्योगिकी के टी मनो थंगराज और वित्त और मानव संसाधन के पलानीवेल थिगराजन होंगे।

 

 

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक मंत्रियों में के एन नेहरू (नगरीय प्रशासन मंत्री), आई पेरियासामी (सहकारिता मंत्री), के पोनमुडी (उच्च शिक्षा मंत्री), ईवी वेलू (लोक निर्माण मंत्री), एमआरके पन्नीरसेल्वम (कृषि और किसान कल्याण मंत्री), केकेएसआर रामचंद्रन (राजस्व और आपदा प्रबंधन मंत्री), थंगम थेनारसु (उद्योग मंत्री) एस मुथुमी (आवास और शहरी विकास मंत्री) शामिल हैं। और के आर पेरियाकरप्पन (ग्रामीण विकास मंत्री) और टी एम अंबारासन (ग्रामीण उद्योग मंत्री) में है।

रिपोर्टों में आगे की सूची में सांसद समीनाथन (सूचना एवं प्रचार मंत्री), पी गीता जीवन (समाज कल्याण और महिला सशक्तिकरण मंत्री), अनिता एस राधाकृष्णन (मत्स्य पालन, मछुआरा कल्याण और पशुपालन मंत्री), एसआर राजकनप्पन (परिवहन मंत्री), के रामचंद्रन (वन मंत्री), वी सेंथिलबालाजी (बिजली, निषेध और उत्पाद मंत्री), आर गांधी (हथकरघा और वस्त्र मंत्री) पी मूर्थी (वाणिज्यिक कर और पंजीकरण मंत्री), और एसएस शिवशंकर (पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री) भी शामिल हैं।

इसमें पीके सेकरबाबू (हिंदू धार्मिक और धर्मार्थ बंदोबस्ती मंत्री), एसएम नसर (दूध और डेयरी विकास मंत्री), जिनजी केएस मस्तन (अल्पसंख्यक कल्याण और अनिवासी तमिल कल्याण मंत्री), शिवा वी मेयनथन (पर्यावरण-जलवायु परिवर्तन और युवा कल्याण और खेल विकास मंत्री, सी वी गणेशन (श्रम कल्याण और कौशल विकास मंत्री), एम मैथिवेथन (पर्यटन मंत्री), और एन काल्विझी सेल्वाराज (आदि द्रविड़ कल्याण मंत्री) हैं।

इस सूची में चेन्नई के तीन विधायक हैं जिनमें स्टालिन, एमए सुब्रमण्यन और सेकर बाबू शामिल हैं। हालांकि प्रदेश के डेल्टा क्षेत्र से किसी मंत्री की नियुक्ति नहीं की गई है।

भारत से लौट रहे नागरिकों के लिए ऑस्ट्रेलिया ने खोले दरवाजे, पीएम मॉरिसन ने हटाया बैन

माता-पिता नहीं बल्कि इन लोगों की छांव में पले-बड़े थे रवींद्रनाथ टैगोर

फ्रांस के बाद इस देश ने भारत में पाए जाने वाले कोरोना के नए संस्करण का लगाया पता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -