क्या यही है मानवता, DM ने कैसे दिया महिला को जीवन दान?

शाहजहांपुर : कभी-कभी संयोग से ऐसी घटना हो जाती है कि सहसा उस पर विशवास नहीं होता. ऐसा ही कुछ हुआ जिला अस्पताल का निरीक्षण करने पहुँचे डीएम विजय किरण आनन्द के साथ, जिन्होंने एक जरुरतमन्द लड़की को अपना खून देकर उसे जीवन दान दिया. हुआ यूँ कि सोमवार को डीएम जिला अस्पताल के ब्लड बैंक का निरीक्षण करके जैसे ही बाहर निकले, तभी पक्का तालाब मोहल्ला निवासी महिला मीरा ने उन्हें रोक लिया और बताया कि सांस की तकलीफ के कारण अस्पताल में भर्ती उसकी बहन रीना की खून की कमी के कारण तबीयत बिगड़ रही है पर डाक्टर खून नहीं दे रहे हैं.

इस पर डीएम ने सीएमएस से कारण पूछा तो उन्होंने कहा कि रीना का ब्लड ग्रुप एबी निगेटिव है, जो मुश्किल से मिलता है. उसे दो यूनिट खून की जरूरत है, जबकि उनके पास इमरजेंसी में एक ही यूनिट है. यह सुनकर डीएम ने सीएमएस सहित पूरे स्टाफ को फटकार लगाते हुए कहा कि एक महिला की जान जा रही है और आप खून का इंतजाम नहीं कर रहे हो.

डीएम आनन्द ने कहा मेरा ब्लड ग्रुप एबी निगेटिव है.बिना देरी किए मेरा खून लिया जाए.इसके बाद डाक्टरों ने डीएम का खून लिया और अस्पताल में मौजूद यूनिट भी रीना को दे दी. डीएम की सह्र्दयता से एक लडकी को जीवन दान मिल गया.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -