वंचित बच्चों के लिए दान के माध्यम से खुशियां फैला रहा इंदौर

इंदौर में दिवाली समारोह का एक अनिवार्य हिस्सा दान ड्राइव के माध्यम से खुशी फैला रहा है। दीवाली के सप्ताह की शुरुआत से इंदौर में दान अभियान शुरू हुआ। अनाथ बच्चों के लिए उपहार देने से लेकर अनाथ बच्चों को उपहार देने तक, दयालुता के इशारे आम होते जा रहे हैं क्योंकि हम रोशनी का त्योहार मनाने के लिए तैयार हैं। इस साल कोरोना वायरस महामारी के कारण नकदी संकट के बावजूद बच्चों की पढ़ाई जारी रखने में मदद करने के लिए, कई एनजीओ नोटबुक, किताबें और अन्य स्टेशनरी आइटम एकत्र कर रहे हैं।

स्थानीय संगठन भी शहर के विभिन्न हिस्सों में इस तरह की पहल कर रहे हैं। इंडोरियंस ने हमेशा इस तरह के दान ड्राइव के साथ कम-विशेषाधिकार प्राप्त लोगों को साझा करने और देखभाल करके दिवाली पर एक उदाहरण निर्धारित किया है। एनजीओ रॉबिनहुड सेना के सहयोग से फिक्की एफएलओ इंदौर की टीम ने इस दीवाली पर एक पहल की है, जो वंचित महिलाओं और बच्चों के लिए मुस्कान फैलाएगी। FLO इंदौर ने ट्रेजर आइलैंड और C21 मॉल में ड्रॉप बॉक्स लगाए हैं जहां लोग आकर नोटबुक, कंबल, बच्चों के कपड़े, खेल की वस्तुएं और सूखे राशन (चावल और दाल) दान कर सकते हैं। ड्रॉप बॉक्स 7 नवंबर से 15 नवंबर तक सुबह 11 बजे से शाम 7 बजे तक उपलब्ध हैं।

रॉबिन-हुड सेना के स्वयंसेवक इसे स्वीकार करने से पहले गुणवत्ता का आश्वासन देंगे और इन सभी को इंदौर के स्लम क्षेत्रों में वितरित किया जाएगा। फिक्की एफएलओ इंदौर हमेशा इस कठिन समय में जरूरतमंद लोगों की मदद करने में सक्रिय रहा है जिसने विभिन्न पहलुओं में जन जीवन को प्रभावित किया है।

धरम और कर्म के बीच बिलकुल भी नही करना चाहिए दिखावा

अब कपिल के शो में नहीं नजर आएँगे कृष्णा अभिषेक!

ब्रम्ह कमल से जोड़ा था ब्रम्हाजी ने गणेशजी का सर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -