अलका लांबा को कहा नकटी, विधानसभा में हंगामा

नईदिल्ली। दिल्ली विधानसभा में आम आदमी पार्टी ने लोकपाल बिल तो पारित कर ही दिया है लेकिन विधानसभा की विभिन्न कार्रवाईयों के दौरान पक्ष और विपक्ष आपस में भिड़ते नज़र आ रहे हैं। सोमवार को भी विधानसभा में विधायकों के बीच जमकर हंगामा हुआ। इस दौरान विपक्षियों ने जमकर नारेबाजी की। आम आदमी पार्टी की विधायक अलका लांबा द्वारा यह भी कहा गया कि दिल्ली के क्षेत्रों में पोस्टर चस्पा किए गए।

जिसमें अलका लांबा पर कई तरह की टिप्पणियां की गई थीं। इन पोस्टर्स में ये संदेश लिखे गए थे जिसमें लिखा था कि नकटी की नाक कट गई, रावण मारा गया। भारतीय जनता पार्टी के विधायकों पर आप विधायकों पर अभद्र टिप्पणियां करने और बेवजह हंगामा करने का आरोप लगाया गया।

नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता को मार्शल की सहायता से सदन से बाहर कर दिया गया। पोस्टर्स में जिस तरह का विरोध किया गया। विरोध के चलते महिला विधायक वैल में आई। विधानसभा अध्यक्ष के सामने विधायक अलका लांबा ने विरोध जताया और कहा कि इस बात का उत्तर दिया जाए कि आखिर किसकी नाक कटी है और इनमें से रावण कौन है।

आखिर इसका उत्तर दिया जाए। भाजपा के नेताओं की ओर से महिला विधायकों ने कहा कि आचरण की कार्यप्रणाली की समय सीमा तय होना बेहद जरूरी है। जब विधानसभा अध्यक्ष द्वारा घटना की वीडियो क्लिपिंग देखी गई तो उसमें कुछ भी नहीं मिला। यह पूरा ही मसला आचरण समिति को दिया गया।

यह भी कहा गया है कि विधानसभा की ओर से एकतरफा सुनवाई की बात कही गई। भाजपा विधायक और नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने सत्तापक्ष पर आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी की सरकार अपने अधिकारों का बेवजह इस्तेमाल कर रही है। भाजपा की बात अनसुनी कर दी गई है। उन्होंने आरोप लगाया था कि आम आदमी पार्टी के विधायक को राजनीति का शिकार बनाया गया। हंगामे के बाद अध्यक्ष के आदेश से भारतीय जनता पार्टी के भी बाहर निकाल दिया गया। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -