स्वास्थ्य मंत्री और स्वास्थ्य सचिव में ठनी

नई दिल्ली : स्वास्थ्य मंत्रालय को लेकर विवाद बढ़ गया है। यह विवाद सर्वोच्च न्यायालय में पहुंच गया। इस मामले में दिल्ली की राज्य सरकार और उपराज्यपाल की ओर से नियुक्त किए गए स्वास्थ्य सचिव चंद्राकर भारती पक्ष और विपक्ष में आ गए हैं। इस मामले में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सतेंद्र जैन ने एक हलफनामा दायर कर दिया है। इस हलफनामे में यह बात शामिल की गई है कि स्वास्थ्य सचिव, स्वास्थ्य मंत्री को भी महत्व नहीं देते हैं।

हालात ये हैं कि स्वास्थ्य सचिव चंद्राकर भारती को विभिन्न दौर की बैठकों के लिए निमंत्रित किया गया लेकिन वे आए ही नहीं। वे मंत्री से मिलने के लिए भी नहीं पहुंचते हैं। वे सीधे उपराज्यपाल को रिपोर्ट करते हैं। मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि उपराज्यपाल ने इन सभी बातों के बाद भी उन्हें स्वास्थ्य सचिव बना दिया है।

मगर मंत्रालय और स्वास्थ्य सचिव के बीच पटरी न बैठने से विभाग का काम प्रभावित हो रहा है। उन्होंने मोहल्ला क्लिनीक में दिलचस्पी ही नहीं ली। वे मंत्रालय में बिना बताए अवकाश पर चले गए हैं।

दिल्ली में डेंगू चिकनगुनिया से हालात हुए गंभीर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -