विषाणु से होने वाली अन्य बीमारियां

May 29 2018 01:53 PM
विषाणु से होने वाली अन्य बीमारियां

जब से केरल में निपाह वायरस का मामला सामने आया है तब से पूरे देश में न केवल इसकी चर्चा है , बल्कि लोगों में खौफ भी है. आपको बता दें किअकेला निपाह वायरस ही नहीं है , जिससे लोगों की जान को खतरा होता है , बल्कि अन्य विषाणु भी लोगों की जान ले सकते हैं .

विषाणु से होने वाले रोगों को एक सूत्र में पिरोकर उसे एक पंक्ति में बताने का सुंदर प्रयास किया है जिससे विषाणु से होने वाले रोगों को एक नजर में समझा जा सकता है . यह है ' रेखा हमें हिट करके पोएचे छोड़ गई' इसमें एक -एक बीमारी को एक अक्षर से संकेतात्मक समझाया गया है. इसे इस तरह से समझा जा सकता है. मतलब रे -रेबीज,खा - खसरा, ह - हर्पिस, में -मेनिनजाइटिस,हि-हिपैटाइटिस,ट -ट्रैकोमा, करके यहां साइलेंट है.पो- पोलियो,ए -एड्स,चे -चेचक,छो -छोटी माता, ड-डेंगू ज्वर,ग -गलसोध और ई- इन्फ्लुएंजा कहा गया है.

इसी तरह जीवाणु यानी बैक्टीरिया से होने वाले रोगों को भी एक पंक्ति में समझने की कोशिश की गई है . यह है ' गोटि ने निम्मो को क्षटा सिडी प्ले करने को कहा' अर्थात गो -गोनोरिअा,टी - टिटनेस,निम्मो - निमोनिया ,को -कोढ़,क्ष -क्षय रोग, टा -टायफायड,सि -सिफलिस, डि -डिप्थीरिया ,प्ले -प्लेग, करने को ( साइलेंट ), क-काली खांसी और हा- हैजा के रूप में जीवाणु से होने वाली बीमारियां बताई गई है.

जहाँ तक निपाह वायरस से पीड़ित होने वाले के लक्षण की बात है तो सिर दर्द, थकान, भटकाव और दिमागी उलझन के लक्षण दिखाई देते हैं. इस बीमारी से ब्रेन में सूजन आ जाती है. निपाह वायरस के रोगी 24-48 घंटों में कोमा में भी जा सकते हैं या फिर उनकी मौत भी हो सकती है.

यह भी देखें 

निपाह वायरस नाम मलेशिया में रखा गया

निपाह वाइरस, चमगादड़ और इस गांव की पशोपेश