कर्नाटक: क्या फ्लोर टेस्ट टालना चाहती है कांग्रेस-जेडीएस ? विश्वास मत की जगह नोटबंदी पर हो रही बहस

कर्नाटक: क्या फ्लोर टेस्ट टालना चाहती है कांग्रेस-जेडीएस ? विश्वास मत की जगह नोटबंदी पर हो रही बहस

बंगलोर: कर्नाटक में एचडी कुमारस्वामी की सरकार पर खतरा बरक़रार है, विधानसभा स्पीकर रमेश कुमार ने आदेश दिया है कि आज शाम 6 बजे तक विश्वास मत पर मतदान हो जाएगा. किन्तु मंगलवार सुबह जब सदन की कार्यवाही आरंभ हुई तो कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों ने नोटबंदी पर चर्चा छेड़ दी. विधानसभा में फ्लोर टेस्ट में क्या होगा इस पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं, वहीं इसी बीच सदन में नोटबंदी पर बहस चल रही है.

दरअसल, विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार ने मंगलवार को सभी विधायकों को सुबह 10 बजे आने के लिए कहा था, ताकि विधानसभा में जो चर्चा चल रही है, उसे आगे बढ़ाया जा सके. इस बीच जब कांग्रेस के विधायकों ने बोलना आरंभ किया तो उन्होंने 2016 में लागू की गई नोटबंदी का राग छेड़ दिया और किस तरह उसे लागू किया गया, इस पर बहस शुरू हो गई. विधायक सदन में चर्चा कर रहे हैं कि नोटबंदी के कारण कैसे अभी तक नौकरियों पर प्रभाव पड़ रहा है और कैसे सरकारी स्कीम लागू नहीं हो पा रही हैं. 

यही नहीं, कांग्रेस विधायक ईश्वर कांद्रे सदन में इस समय इस बात पर चर्चा कर रहे हैं कि नोटबंदी करना एक तरह का अपराध था. आपको बता दें कि सोमवार को स्पीकर रमेश कुमार ने कहा था कि मंगलवार शाम 4 बजे तक विश्वास प्रस्ताव पर चर्चा की जाएगी. उसके बाद सीएम एचडी कुमारस्वामी बयान देंगे और फिर शाम 6 बजे तक मतदान होगा.

कश्मीर मामला: संसद में भी गूंजा ट्रम्प का बयान, विपक्ष की मांग- पीएम मोदी खुद दें स्पष्टीकरण

अब इस मामले को लेकर केंद्र पर भड़की ममता बनर्जी

चंद्रयान-2: ISRO की कामयाबी पर NASA ने थपथपाई खुद की पीठ, सोशल मीडिया यूज़र्स ने लगाई क्लास