विकलांगो ने की पीएम मोदी से दिव्यांग शब्द का प्रयोग न करने की अपील

Jan 23 2016 12:15 PM
विकलांगो ने की पीएम मोदी से दिव्यांग शब्द का प्रयोग न करने की अपील

नई दिल्ली : विकलांगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक नए शब्द का प्रयोग किया था। मगर इस शब्द पर विकलांगों ने ही कड़ी आपत्ती ली है। इस दौरान दिव्यांग शब्द का उपयोग न करने की अपील भी इन लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से की है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में विकलांगों के लिए ट्रायसिकिल वितरण के कार्यक्रम का शुभारंभ किया था।

इस दौरान उन्होंने उपस्थितों को संबोधित करते हुए कहा था कि दिव्यांगों के पास एक अलग क्षमता होती है उस क्षमता को देखा जाना चाहिए। उनके कमजोर अंगों को नहीं देखा जाना चाहिए। संगठनों ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा और कहा कि इस तरह की अभिव्यक्ति को गढ़ने के पीछे जिस तरह की इच्छा है उस पर सवाल नहीं करना चाहिए। 

दिव्यांगों द्वारा सवाल किया गया कि क्या ऐसे शब्दों से विकलांगों को लेकर समाज जिस तरह का बिहेवियर रखता है उसमें परिवर्तन आ सकता है। इस तरह के संगठन ने कहा कि विकलांगता कोई देवी उपहार नहीं है दिव्यांग आदि शब्दों का उपयोग करने से विकलांगों के प्रति जिस तरह का व्यवहार किया जाता है उसमें बदलाव नहीं आएगा।

इस मामले में विकलांगों ने पीएम मोदी से अपील की गई कि दिव्यांग शब्द का उपयोग करने से इस तरह की योजना को टालने का निवेदन किया जा सकता है। विकलांगों ने अपील की कि समाज जब दिव्यांग शब्द का उपयोग करेगा तभी इस शब्द के अर्थ रहेंगे। ऐसे में इसका प्रयोग करवाने से काम नहीं चल सकता है।