खरगोन में अपराधियों के घर तोड़े जाने पर बोले दिग्विजय सिंह- 'बुलडोजर चलाना है तो...'

भोपाल: मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह अपनी एक दिवसीय यात्रा के चलते शुक्रवार को अजमेर पहुंचे। उन्होंने विश्व प्रसिद्ध सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में चादर पेश कर भारत में अमन चैन की दुआ मांगी। जियारत के पश्चात् मीडिया से चर्चा में उन्होंने कहा कि जब भी वह अजमेर आते हैं तो गरीब नवाज की बारगाह में हाजिरी अवश्य लगाते हैं। उन्होंने कहा कि देश में अमन चैन तथा भाईचारे के साथ सभी प्यार और मोहब्बत से रहे। इसके लिए गरीब नवाज की बारगाह में दुआ की है।

वही अजमेर के सर्किट हाउस में पत्रकारों से रूबरू हुए दिग्विजय सिंह ने देश की वर्तमान राजनीति तथा स्थितियों पर बेबाकी से अपने बयान दिए। उन्होंने कहा कि वर्तमान में देश की मुख्य दिक्कतों से ध्यान भटकाया जा रहा है। धर्म के नाम पर दंगे फसाद कराए जा रहे हैं। धार्मिक उन्माद तथा नफरत फैला कर देश चलाने का प्रयास किया जा रहा है। 

वही दिग्विजय सिंह ने खरगौन हिंसा के अपराधियों के घर तोड़ने पर टिप्पणी की। उन्होंने कहा कि बुलडोजर चलाना है तो नफरत पर चलाओ, महंगाई तथा बेरोजगारी पर चलाओ। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत के अखंड भारत बयान पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि अखण्ड भारत का अर्थ पाकिस्तान तथा बांग्लादेश भी फिर से भारत में सम्मिलित होंगे। यह सवाल मुझसे नहीं नरेंद्र मोदी से पूछना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें राजनीति की चिंता नहीं, हमें इस देश की चिंता है। जिस प्रकार से इस देश की स्थिति वर्ष 2014 के बाद से बिगड़ती जा रही हैं, वह चिंता का विषय है। गरीब और गरीब होता जा रहा है तथा अमीर ओर अमीर होता जा रहा है। यह खाई आहिस्ता-आहिस्ता बढ़ती जा रही है। जबकि यूपीए के शासनकाल में तकरीबन 15 करोड़ों लोगों को निर्धनता से बाहर निकाल दिया गया था, जिन्हें वापस से निर्धनता में धकेल दिया गया है।

'किसी की भी सिफारिश पर पीड़ित के साथ अन्याय न करें...', राजस्थान पुलिस को सीएम गहलोत का स्पष्ट सन्देश

दिल्ली में 55 एकड़ में बनेगी इलेक्ट्रॉनिक सिटी, जानिए क्या है केजरीवाल सरकार का प्लान ?

डेढ़ करोड़ मजदूरों की बेटियों को शादी में मिलेगा 1 लाख रुपया शगुन, योगी सरकार निभाने जा रही एक और वादा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -