'डिजिटल इंडिया' से शिक्षा, रोजगार, उद्यमिता को मिला बढ़ावा- पीएम मोदी

शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनके 'डिजिटल इंडिया फ्लैगशिप' कार्यक्रम ने दलालों को हटाकर नागरिकों को सशक्त बनाने का काम किया है. उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया फ्लैगशिप प्रोग्राम ने शिक्षा, रोजगार, उद्यमिता और सशक्तीकरण को बढ़ावा दिया है. बता दें कि पीएम मोदी नमो ऐप के जरिए डिजिटल इंडिया फ्लैगशिप प्रोग्राम के लाभार्थियों को सम्बोधित किया. इस ख़ास कार्यक्रम को फेसबुक पर स्ट्रीम किया गया. मोदी ने लाभार्थियों से बातचीत के दौरान कहा, "हमने डिजिटल इंडिया को तकनीक के माध्यम से खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों द्वारा लाभ उठाना सुनिश्चित करने के लिए बेहद सरल फोकस के साथ लॉन्च किया."

पीएम मोदी ने कहा कि इस पहल ने डिजिटल ट्रांजेक्शन को अधिक बढ़ावा दिया है. साथ ही दलालों में दलाली करने की अवधारणा को भी खत्म कर दिया है. उन्होंने कहा, "प्रौद्योगिकी के कारण, रेलवे टिकट ऑनलाइन बुक किए जा सकते हैं, बिल का भुगतान ऑनलाइन किया जा सकता है. यह सब बेहतरीन सुविधा प्रदान करते हैं. हमने यह सुनिश्चित किया कि प्रौद्योगिकी के फायदे कुछ चुनिंदा लोगों तक ही सीमित नहीं रहे, बल्कि वे समाज के सभी वर्गों तक पहुंचे. हमने कंप्यूटर साइंस कॉर्पोरेशंस के नेटवर्क को मजबूत किया है." पीएम मोदी ने यह भी बताया कि इस योजना के तहत ग्रामीण इलाकों, खासकर पूर्वोत्तर में डिजिटल बदलाव लाने ने अहम भूमिका निभाई है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि, "हमारी पूर्वोत्तर बीपीओ प्रमोशन स्कीम (एनईबीपीएस) के तहत हम न केवल शहरों में बल्कि पूर्वोत्तर में युवाओं को रोजगार भी उपलब्ध करा रहे हैं. भारत बीपीओ पदोन्नति योजना और पूर्वोत्तर के लिए एक अलग बीपीओ प्रोत्साहन योजना इस क्षेत्र से संबंधित नए अवसर पैदा कर रही हैं."

 

राहुल ने दलितों की पिटाई पर बीजेपी -आरएसएस पर हमला बोला

राहुल गाँधी को राजनीतिक टिटनेस हो गया है, वो फिटनेस क्या जाने ...

योगी के मंत्री की शिवपाल से मुलाक़ात, यूपी में तेज हुई सियासी हलचल

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -