इन उपायों से आप भी पा सकते है डायरिया से छुटकारा

डायरिया की समस्या आंतों में तरल का स्राव बढ़ जाने के कारण या तेजी से स्टूल पास होने के कारण होती है। दस्त को उप-श्रेणियों में संक्रामक और नॉनइंफेक्शियस में बांटा गया है। खाने में मौजूद बैक्टीरिया, वायरस और अन्य सूक्ष्म जीवों के कारण पेट में इंफेक्शन हो जाता है और डायरिया की समस्या हो जाती है। इस प्रकार के दस्त को आसानी से ठीक किया जा सकता है। अन्य दवाइयों की वजह से भी डायरिया की समस्या होती है। 

केले के छिलकों से आप भी बड़ा सकते है दांतों की चमक

इस कारण होती है समस्या 

जानकारी के लिए आपको बता दें यह एक आम विकार है जो सूजन, दस्त और अन्य पेट की समस्याओं का कारण बनता है। होने वाले दस्त को रोकने के लिए, जीवनशैली में और आहार योजना में कुछ बदलावों को अपनाएं। बता दें अगर आपके शरीर को कुछ खाद्य पदार्थों को पचाने में समस्या आती है तो यह स्थिति भी दस्त का कारण बनती है। अवांछित भोजन का सेवन 30 मिनट या दो घंटे में दस्त का कारण बनता है।

गर्म पानी के साथ इस तरह करें काली मिर्च का सेवन, स्वास्थ्य को मिलेंगे फायदे

और भी है कई कारण 

इसी के साथ कभी-कभी दवाएं भी दस्त का कारण बनती हैं। एंटीबायोटिक दवाओं का सेवन भी अच्छे बैक्टीरिया को मार देता है जो आंत प्रणाली की रक्षा करता है। यदि आप लगातार दस्त का सामना कर रहे हैं तो जल्द से जल्द अपने डॉक्टर से परामर्श लें। वही प्रदूषित भोजन में बैक्टीरिया होते हैं जिनका सेवन करने से पेट में बैक्टीरिया जमा हो जाता है। इसके अलावा, ये बैक्टीरिया भी उल्टी और पेट की ऐंठन का कारण बनता है। इस समस्या को रोकने के लिए, खाने की चीजों को पहले सभी ठीक से धो लें।

क्या आपको भी आती है सोते समय मुंह से लार, हो सकती है यह समस्या

हल्दी वाले दूध की तरह पानी भी है फायदेमंद

कैंसर के कारण इतनी ख़राब हो गई थी सोनाली की हालत, बचने के थे 30% चांस

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -