डायबिटीज़ वाले पेशेंट भी खा सकेंगे दिवाली की ये 5 मिठाई

डॉक्टर डायबिटीज के पेशेंट को सलाह देते हैं मीठा ना खाने के लिए जिसके कारण वो किसी भी फंक्शन में मीठा नहीं खा पाते. ये उनके लिए जानलेवा तक हो सकता है. बदलती लाइफ स्टाइल ने इस खतरे को और भी बढ़ाया है. अब दिवाली जैसे त्योहार पर बाजार में ऐसी मिठाइयां भी आईं हैं जो शुगर फ्री हैं और इसका स्वाद लिया जा सकता है. आइए आपको बताते हैं कुछ ऐसी मिठाइयों के बारे में जो आपकी दिवाली में मिठास घोल सकती हैं. 

* शुगर-फ्री बेसन लड्ड : बेसन, घी और ढेर सारी चीनी से बने गरमा गरम बेसन के लड्डू सभी को पसंद होते हैं. स्वाद और सेहत का ख्याल रखते हुए आजकल विक्रेता और ई-कॉमर्स कंपनियों के पास कई ऐसे विकल्प उपलब्ध हैं, जिसमें चीनी बिल्कुल नहीं होती और खाने में भी यह मिठाई बेहद स्वादिष्ट होती है.

* खजूर रोल : ऐसे लोगों के लिए खजूर अच्छा विकल्प हो सकता है. आप बादाम के टुकड़ों के साथ गॉर्निश किए गए खजूर रोल खा सकते हैं, जो आपके स्वास्थ्य के लिए भी बढ़िया है.

* अंजीर बर्फी : अंजीर सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं है. यह पाचन में सुधार के साथ मधुमेह को भी निंयत्रित रखती है. अंजीर से बनी बर्फी में रिफाइंड शुगर नहीं होती.  

* फिनी : यह एक पारंपरिक राजस्थानी मिठाई है. यह मुख्य रूप से राजस्थान के बीकानेर में मिलती है. आटे, चीनी और शुद्ध घी से बनने वाली यह मिठाई आजकल शहद से तैयार की जाती है. जो बिल्कुल शुगर-फ्री होती है. 

* लौकी का हलवा : दिवाली पर आप लौकी का हलवा भी खा सकते हैं. इसे एक छोटा चम्मच घी, लौकी, कम वसा वाले दूध, इलायची पाउडर और स्टेविया डालकर बनाया जाता है. 

दूध को अधिक उबालकर पीने से हो सकता है सेहत को खतरा

अगर पीते हैं कम पानी, तो हो सकती हैं ये बीमारियां

चेहरे पर जमा है फैट तो अपनाएं ये अनोखी एक्सरसाइज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -