अपनी पहली फिल्म के दौरान दीया मिर्जा को करना पड़ा था सेक्सिज्म का सामना

May 12 2021 09:00 AM
अपनी पहली फिल्म के दौरान दीया मिर्जा को करना पड़ा था सेक्सिज्म का सामना

बॉलीवुड एक्ट्रेस दीया मिर्जा को तो आप सभी अच्छे से जानते ही होंगे। दीया ने अपने काम से सभी का दिल जीता है। वह साल 2001 में आई फिल्म 'रहना है तेरे दिल में' पहली बार नजर आईं थीं। इस फिल्म में काम करने के बाद उन्होंने लोगों के दिलों में जगह बना ली। ऐसे में बीते दिनों ही वह अपनी दूसरी शादी को लेकर चर्चाओं में थीं। ऐसे में अब दीया मिर्जा ने हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के अंदर सेक्सिज्म को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है। एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा, ''उनकी पहली फिल्म के दौरान उन्हें सेक्सिज्म का सामना करना पड़ा था।''

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Dia Mirza (@diamirzaofficial)

दीया मिर्जा के अनुसार, फिल्म इंडस्ट्री में सेक्सिज्म को पुरुषों की तरफ से ही बढ़ावा मिलता है। उन्होंने बताया, ''लोग सेक्सिस्ट सिनेमा लिख रहे थे,जिसके बारें में बातें कर रहे थे और मैं भी उन कहानियों का एक हिस्सा थी। मेरी पहली फिल्म 'रहना है तेरे दिल में' में भी सेक्सिज्म था। मैं ऐसे लोगों के साथ ही एक्टिंग कर रही थी। जो किसी पागलपन से कम नहीं था।' इस दौरान दीया ने अपनी बात को समझाने के लिए एक उदाहरण दिया और कहा, 'एक मेकअप आर्टिस्ट केवल एक पुरुष ही हो सकता है, महिला नहीं। एक हेयर ड्रेसर महिला ही होगी।'

इसके अलावा उन्होंने बताया, 'जब मैंने बॉलीवुड में कदम रखा तब मेरी फिल्म में यूनिट में 120 से ज्यादा क्रू मेंबर की यूनिट हुआ करता था, लेकिन उस यूनिट में केवल 4 या 5 महिलाएं होतीं थी। हम एक पुरुष प्रधान देश में रहते हैं जहां पितृसत्तात्मक समाज कायम है और जो फिल्म इंडस्ट्री है, जिसका नेतृत्व काफी हद तक पुरुषों के हाथ में है। तो जगजाहिर है कि इस इंडस्ट्री में सबसे ज्यादा सेक्सिज्म है।'

आगे दीया ने कहा, 'मुझे लगता है कि फिल्म इंडस्ट्री का एक बड़ा हिस्सा भी सेक्सिज्म को लेकर जागरूक ही नहीं है, क्योंकि यहां बहुत सारे ऐसे पुरूष हैं, जो लेखक, निर्देशक , एक्टर हैं जो सेक्सिज्म से भरी सोच वाले हैं, लेकिन उन्हे इसका अंदाजा ही नहीं है। अब धीरे-धीरे इस बॉलीवुड में भी सेक्सिज्म को लेकर सुधार हुआ है। मुझे यकीन है कि चीजों में अब सुधार हुआ है, क्योंकि कई लोग इसके फेवर में और आवाज भी उठाए और पितृसत्ता क्या है और सेक्सिज्म क्या है? इस बारे में लोगों की बेहतर समझ डेवेलप हुई है।' वैसे दीया के काम के बारे में बात करें तो इन दिनों उनके पास कोई प्रोजेक्ट नहीं है बल्कि वह अपने होने वाले बच्चे पर ध्यान दे रहीं हैं।

अब नहीं रेमेडिसिविर की कालाबाजारी करने वालों की खैर, MP में 21 लोगों के खिलाफ NSA

पिता की कविता पढ़ते हुए बोले अमिताभ- 'एक साथ मिलकर हम लड़ेंगे और जीतेंगे'

आज इन राशिवालों की सुधरेगी आर्थिक तंगी, जानिए क्या कहता है आपका राशिफल