Dhadak Review : 'सैराट' की तरह कमाल नहीं दिखा पाई 'धड़क'

Dhadak Review : 'सैराट' की तरह कमाल नहीं दिखा पाई 'धड़क'

एक्ट्रेस जाह्नवी कपूरऔर ईशान खट्टर की मोस्ट अवेटेड फिल्म 'धड़क' आख़िरकार रिलीज़ हो ही गई जिसका सभी को बेसब्री से इंतज़ार था. धड़क मराठी फिल्म 'सैराट' का हिंदी रीमेक है जिसे काफी पसंद किया गया है. उसी को देखते हुए डायरेक्टर शशांक खेतान ने इस फिल्म को बनाया और उम्मीद की है इस फिल्म को उतना ही पसंद किया जायेगा. तो चलिए जान लेते हैं फिल्म में क्या रहा खास और और रहा बकवास.  जानते हैं इस फिल्म का रिव्यु.

Video: इस वजह से 'धड़क' की स्क्रीनिंग में फुट-फुटकर रोई जाह्नवी कपूर

फिल्म का नाम : धड़क 

स्टार कास्ट : जाह्नवी कपूर, ईशान खट्टर 

निर्देशक : शशांक खेतान

प्रोड्यूसर : करण जौहर 

अवधि : 2 घंटे 30 मिनट 

जॉनर : रोमांस / ड्रामा 

रेटिंग : 2.5 / 5

कहानी : कहानी कुछ ऐसी है के दबंग नेता रतन सिंह (आशुतोष राणा) किसी भी तरह विधानसभा चुनाव जीतना चाहते हैं इसके लिए वो किसी की भी बेटी की इज्जत के खेल सकते हैं. उनकी बेटी पार्थवी (जाह्वनी कपूर) जो कॉलेज में पढाई करती है जहां वो  छोटी जाति के लड़के मधुकर (ईशान खट्टर) के प्यार में पड़ जाती है. अब जाती का भेदभाव दोनों को काफी महंगा पड़ता है. जैसे ही पार्थवी के घरवालों की इसकी खबर होती है वो मधुकर को पीत्वा देते हैं और उसे बचाने के लिए पार्थवी हर तरह की कोशिश करती है. इसके बाद दोनों आने घर से भागकर उदयपुर से मुंबई, नागपुर होते हुए ये दोनों कोलकाता पहुंचते हैं. इसके बाद फिल्म में काफी सारे ट्विस्ट हैं जिन्हें आपको देखना होगा.

जान्हवी ने बताया 'धड़क' का खौफनाक सच

एक्टिंग : एक्टिंग के मामले में फिम काफी कमज़ोर रही. जाह्नवी को फिल्म में आपकी कला दिखाने के कई मोके मिले थे लेकिन दर्शको की उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी. जाह्नवी कपूर को अपनी भाषा में राजस्थानी टच देना था लेकिन उन पर ये भसह बिलकुल भी सूट नहीं कर पाई. इतना ही डायलॉग के साथ उनके फेस एक्सप्रेशन भी फेक ही नज़र आये.

कमियां : जाति भेदभाव की बात कही गई है लेकिन फिल्म में ऐसा कुछ दिखाई नहीं दिया. एक डायलॉग है इस फिल्म में जहाँ से दर्शकों को पता चलता है कि जाति भेदभाव भी है फिल्म में. सबसे बड़ी खामी ये है कि सेकेंड हाफ में फिल्म के बाकी किरदारों को गायब कर दिया गया है. कहीं कहीं फिल्म को काफी स्लो कर दिया गया है जहां से दर्शकों को समझ ही नहीं आता कि फिल्म में चल क्या रहा है.

ये भी पढ़ें...

माँ के इस रोल को दोहराना चाहती हैं जाह्नवी कपूर

?