एक ही शख्स से थे देवरानी-जेठानी के अवैध रिश्ते, बदनामी के डर से उठा लिया ये खौफनाक कदम

छिंदवाड़ा: मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में देवरानी एवं जेठानी की खुदखुशी के मामले में हैरान कर देने वाला खुलासा हुआ है। पता चला है कि दोनों के एक ही शख्स से अवैध रिश्ते थे। बदनामी के डर से तीनों ने कुएं में एक साथ छलांग लगाई तथा शख्स तैरकर बाहर निकल आया। देवरानी-जेठानी की मौत हो गई। 

लावाघोघरी के सोनपठार में देवरानी-जेठानी की खुदखुशी मामले में अहम जानकारी सामने आई है। दरअसल, एक शख्स से प्रेम प्रसंग के चलते दोनों ने मौत का रास्ता चुना। खुदखुशी करने से पहले दोनों ही इस शख्स के साथ भाग गई थी। दो दिन तक जंगल में छिपी रही। तत्पश्चात, प्रेमी ने सामूहिक खुदखुशी का षड्यंत्र रचा। तीनों कुएं में कुदे तथा फिर युवक पानी से निकलकर घर भाग गया था। पुलिस की जाँच में यह कहानी सामने आई है। पुलिस ने इस शख्स को गिरफ्तार कर लिया है। 

लावाघोघरी में सोनपठार निवासी 30 वर्षीय सुशीला पति हरेश कोराची तथा उसकी देवरानी 27 वर्षीय श्यामवती पति नरेश कोराची की लाश मंगलवार को परासिया-बैतूल मार्ग पर सोनपठार निवासी हरिराम सरेयाम के खेत में बने कुंए में मिली थी। तहरीर के बाद पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर बुधवार को जिला चिकित्सालय में शवों का पोस्टमार्टम कराया था। पुलिस की तहकीकात में खुलासा हुआ है कि देवरानी का संबंध गांव में रहने वाले स्वामी पिता मुन्नालाल परतेती के साथ था। तत्पश्चात, जेठानी के संबंध भी बन गए। ये बात देवर को पता लग गई थी तथा उसके जरिए दोनों के पतियों को। बात बिगड़ते देख दोनों महिलाएं रविवार को स्वामी के साथ भागकर मैनीखापा के जंगल में गई। 2 दिन पश्चात् तीनों कुएं में कूद गए। स्वामी पानी से तैरकर निकल गया, जबकि दोनों की मौत हो गई। पुलिस ने इस खुलासे के पश्चात् स्वामी पिता मुन्नालाल परतेती के विरुद्ध धारा 306 भादवि के तहत प्रकरण दर्ज कर मामले को तहकीकात में लिया है। 

चिंताजनक! विलुप्त हो रहे गंगाजल को अमृत बनाने वाले मित्र जीवाणु, शोध में हुआ हैरतअंगेज खुलासा

विराट कोहली जैसे ख़राब फॉर्म से कभी नहीं गुजरेंगे बाबर आज़म

अखिलेश यादव क्यों नहीं बन सकते PM कैंडिडेट ? सपा सांसद ने उठाई मांग

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -