तुलसी विवाह के दिन जरूर करें माँ तुलसी के इन मन्त्रों का जाप

Nov 08 2019 03:00 PM
तुलसी विवाह के दिन जरूर करें माँ तुलसी के इन मन्त्रों का जाप

आप सभी को बता दें कि आज तुलसी विवाह होना है. आज ग्यारस है और धार्मिक पौराणिक ग्रंथों में तुलसी का बहुत महत्व माना गया है. ऐसे में जो व्यक्ति तुलसी का प्रतिदिन दर्शन करता है उसके सारे पाप नाश हो जाते हैं. इसी के साथ तुलसी पत्र से पूजा करने से व्रत, यज्ञ, जप, होम, हवन करने का पुण्य प्राप्त होता है. तो आइए आज जानते हैं तुसली स्तुति और तुलसी के मंत्र.

तुलसी के पत्ते तोड़ने के 3 मंत्र :


1 - ॐ सुभद्राय नमः

2 - ॐ सुप्रभाय नमः

3 - मातस्तुलसि गोविन्द हृदयानन्द कारिणी
नारायणस्य पूजार्थं चिनोमि त्वां नमोस्तुते ..

4- महाप्रसाद जननी, सर्व सौभाग्यवर्धिनी
आधि व्याधि हरा नित्यं, तुलसी त्वं नमोस्तुते..
हर कामना पूरी करती है तुलसी, पढ़ें विशेष मंत्र

तुलसी के प्रतिदिन पूजन के समय मां तुलसी के दो दिव्य मंत्र बोलने चाहिए.

5- तुलसी स्तुति मंत्र :

देवी त्वं निर्मिता पूर्वमर्चितासि मुनीश्वरैः
नमो नमस्ते तुलसी पापं हर हरिप्रिये..

6- तुलसी पूजन मंत्र


तुलसी श्रीर्महालक्ष्मीर्विद्याविद्या यशस्विनी.
धर्म्या धर्मानना देवी देवीदेवमन: प्रिया..
लभते सुतरां भक्तिमन्ते विष्णुपदं लभेत्.
तुलसी भूर्महालक्ष्मी: पद्मिनी श्रीर्हरप्रिया..

7- तुलसी नामाष्टक मंत्र...

वृंदा वृंदावनी विश्वपूजिता विश्वपावनी.
पुष्पसारा नंदनीय तुलसी कृष्ण जीवनी..
एतभामांष्टक चैव स्त्रोतं नामर्थं संयुतम.
य: पठेत तां च सम्पूज्य सौश्रमेघ फलंलमेता..

आज है देवउठनी ग्यारस, पूजा में अर्पण करें सिंघाड़ा, केला और यह सब्जियां

इस वजह से चार महीने के लिए सो गए थे श्रीहरि विष्णु, जानिए कारण

हरि प्रबोधनी एकादशी पर जरूर करें व्रत, मिलेगा एक हजार अश्वमेध यज्ञों का फल