डेरा सच्चा सौदा की कमान अब इस महिला के हाथ में

रोहतक: डेरा सच्‍चा सौदा चीफ गुरमीत राम रहीम साध्‍वी के साथ दुष्कर्म के मामले में जेल के अंदर है और बाहर उनकी कथित सल्तनत लावारिस है जिसे अब उसकी मां नसीब कौर संभल रही है. सूत्रों ने बताया कि करीब 70 साल की नसीब कौर अक्‍सर रविवार को आती हैं जब सिरसा में डेरा समर्थक 'नाम चर्चा' के लिए इकट्ठा होते हैं. नसीब कौर हर सप्‍ताह राजस्‍थान के गंगानगर जिले के गुरसर मोडिया गांव स्थित राम रहीम के पैतृक घर से कम से कम एक बार भक्‍तों से मिलने रोहतक के डेरा मुख्‍यालय जरूर आती हैं.

गौरतलब है कि रेप मामले में गुरमीत राम रहीम को सीबीआई कोर्ट ने दोषी ठहराया था और वह 20 साल जेल की सजा काट रहा है. गुरमीत को दोषी ठहराए जाने के एक महीने बाद नसीब ने घोषणा की थी कि उनका नाती जसमीत इंसा डेरे का अगला वारिस होगा.

राम रहीम की गैरमौजुदगी में नसीब कौर अब डेरा का प्रमुख चेहरा बन चुकी है. गुरमीत के कुछ प्रशंसक अभी भी उन्‍हें राजमाता के नाम से ही बुलाते हैं. रेप जैसे मामले में जेल की सजा काट रहे राम रहीम ने कभी सोचा भी नहीं था की जिस डेरे में वो अपने लाखो भक्तों के साथ शान की जिंदगी जी रहा था, वहीं किये गए कुकर्मो के चलते उसे एक दिन 20 साल की सजा होगी.  

कामोत्तेजना बढ़ाने की दवाई खाता था आसाराम

सभी ढोंगी बाबाओं का लेखा जोखा एक साथ

आसाराम का ठिकाना बनी बैरक नंबर 2

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -