धरना प्रदर्शन : बिहार को सूखाग्रस्त घोषित करे सरकार

मुजफ्फरपुर : वामपंथी दलों से संबद्ध किसान खेत मजदूर संगठन ने केंद्र व राज्य सरकार की किसान विरोधी नीति के विरोध में कल मंगलवार को समाहरणालय में धरना प्रदर्शन किया. इस प्रदर्शन का मकसद केंद्र व राज्य सरकार की मजदूर विरोधी नीतियों के प्रति विरोध जाताना था. प्रदर्शनकारी मांग कर रहे थे की बिहार को सूखाग्रस्त घोषित किया जाए.

क्या हैं मांगे?

प्रदर्शनकारियों की मांग है कि देश में ब्याजी प्रगतिशील भूमि सुधार लागू करने, जिले में बर्बाद लीची का मुआवजा जल्द देने, महिला, दलितों व अल्पसंख्यकों पर हो रहे हमले को रोक सहित कई मांगे की गई. वहीं एक प्रतिनिधिमंडल से DM को 19 सूत्री मांगपत्र सौंपा. इसमें आत्महत्या करने वाले किसानों के परिवार को 10 लाख मुआवजा देने, कृषि भूमि को भू-माफिया से बचाने, मनरेगा मजदूरों को 200 दिन रोजगार व न्यूनतम 300 रुपये मजदूरी देने, राष्ट्रीय फसल बीमा को लागू करने साहिल कई मांगे सरकार से की गई.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -