'तिरंगा नहीं उठाने' के महबूबा के बयान पर सियासत गर्म, FIR दर्ज करने की मांग

श्रीनगर: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) और जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती द्वारा राष्ट्रीय ध्वज के खिलाफ दिए गए बयान पर दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है और दिल्ली पुलिस आयुक्त से उनके खिलाफ मामले दर्ज करने की मांग की गई है.  जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को विवादित बयान देते हुए कहा था कि जब तक हमें हमारा जम्मू-कश्मीर का ध्वज वापस नहीं मिल जाता हम तिरंगा नहीं उठाएंगे.

महबूबा के इस बयान से नाराज सर्वोच्च न्यायालय के वकील विनीत जिंदल ने महबूबा के खिलाफ नेशनल ऑनर एक्ट सहित IPC की धारा 121, 151, 153A, 295, 298, 504, 505 के तहत केस दर्ज करने की मांग की है.  दिल्ली पुलिस आयुक्त को दी गई अपनी शिकायत में विनीत जिंदल ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के विवादित बयान ने एक निर्वाचित सरकार के खिलाफ लोगों को भड़काने का कार्य किया है. साथ ही देश के राष्ट्रीय ध्वज का अपमान भी किया है. इसलिए उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए. 

दरअसल मुफ्ती ने विवादित बयान देते हुए कहा था कि "जिस समय हमारा ये झंडा वापस आएगा, हम उस (तिरंगा) झंडे को भी उठा लेंगे. लेकिन जब तक हमारा अपना झंडा, जिसे डाकुओं ने डाके में ले लिया है, तब तक हम किसी और झंडे को हाथ में नहीं उठाएंगे. वो ध्वज हमारे आईन का हिस्सा है, हमारा झंडा तो ये है. उस झंडे से हमारा रिश्ता इस झंडे ने बनाया है."

लगातार चौथे सप्ताह सोने में बढ़त, चांदी में गिरावट

शरद पवार की मौजूदगी में NCP में शामिल हुए एकनाथ खड़से, फडणवीस सरकार में थे मंत्री

क्लोजिंग बेल: ऑटो, आईटी स्टॉक में आई तेजी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -