डेलिवरी बॉय से करोडो का सफर पार्ट-3

कूरियर पर्सन का पता चलने के बाअद अयप्पा  फ्लिपकार्ट के ऑफिस में चले गए ओर वह जाकर कर के वाहन के यंग फाउंडर बिन्नी बंसल ओर सचिन बंसल से मिले. वहाँ जाकर उन्हने फ्लिपकार्ट में नौकरी तो मिल गयी फ्लिपकार्ट के पहले एम्प्लॉय बन गए. ऐसा भी बताते है की उन्होंने जब जॉब करना चालू किया था तो एक साल तक तो उन्हें ऑफर लत्तेर नहीं मिला क्योकि उनके  कंपनी में ह्यूमन रिसोर्स नहीं थी. 

वो कहते है ना, कि कुछ बनने के सपने देखो या इच्छा पैदा करो. उनके द्वारा किये गये कार्य से उनके नए काम में इतना क्नॉलेज बड़ा की वो बिना सिस्टम चेक किये ग्राहकों की समस्या का समाधान कर देते थे. उन्हें अपने पेंडिंग काम की जानकारी हमेशा थी.

तब उनकी सैलरी 8000 रुपये थी. उनके पास nascent वेंचर का शेयर भी था. जो कंपनी  के बढ़ने के साथ बढ़ने लगा. उसके बाद उनकी लाइफ में क्या परिवर्तन आये. आज वो क्या कर रहे  है आज जानते है अगले भाग में. 

फ्लिपकार्ट खरीदेगी ई-बे इंडिया को ! माइक्रोसॉफ्ट का निवेश

Xiaomi Redmi note 4 की सेल शुरू

11 अप्रैल ऑनलाइन ऑफर धमाल Day

किन पॉपुलर स्मार्टफोन्स पर दे रहा है Flipkart डिस्काउंट जाने!

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -