टेक्स वसूली को लेकर नितिन गडकरी का बड़ा बयान, कहा- "1,000 से 1,500 करोड़ रुपये का टोल राजस्व..."

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राष्टूीय राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बोला है कि दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे परिचालन में आने के उपरांत केंद्र को हर माह 1,000 से 1,500 करोड़ रुपये का पथकर (टोल) राजस्व प्रदान करेगा। इस बहुप्रतीक्षित एक्सप्रेसवे के 2023 में परिचालन में आने की उम्मीद जताई है। नितिन गडकरी ने NHAI  को ‘सोने की खान’ करार दे दिया है।

वहीं नितिन गडकरी ने दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे की प्रगति की समीक्षा के लिए हाल में एक लंबी यात्रा को पूरा कर चुके है। उन्होंने रविवार को यहां कहा कि अगले 5 वर्ष में NHAI की सालाना टोल आय बढ़कर 1.40 लाख करोड़ रुपये पर पहुंच सकती है। अभी यह 40,000 करोड़ रुपये के स्तर पर है। दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के अतिरिक्त 4 राज्यों से होकर गुजरेगा। सड़क परिवहन मंत्री ने बोला कि देश का राष्ट्रीय राजमार्ग ढांचा विश्वस्तरीय सफलता की कहानी सामने आई है।

जहां इस बारें में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक साक्षात्कार में बोला है कि ‘‘एक बार दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे परिचालन में आने और जनता के लिए खोले जाने के उपरांत  केंद्र को प्रतिमाह 1,000 से 1,500 करोड़ रुपये का पथकर राजस्व प्रदान करेगा।’’ दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे का निर्माण मार्च, 2023 तक पूरा होने की उम्मीद है। इसका निर्माण ‘भारतमाला परियोजना’ के प्रथम चरण के अंतर्गत किया जा रहा है। आठ लेन का यह एक्सप्रेसवे दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, मध्यप्रदेश और गुजरात से होकर जाएगा। इससे राष्ट्रीय राजधानी से देश की वित्तीय राजधानी के मध्य यात्रा का वक़्त मौजूदा के 24 घंटे से घटकर आधा यानी 12 घंटे रह जाएगा।

UKLF के अध्यक्ष लुंखोसन हाओकिप को एनआईए ने किया गिरफ्तार

'आपके ISI एजेंट महिला से संबंध थे राज को राज रहने दो', कैप्टन अमरिंदर पर बरसे सिद्धू के सहायक

विंक गर्ल प्रिया प्रकाश का एक और बेहतरीन वीडियो हुआ वायरल, फिसला फैंस का दिल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -