दिल्ली को प्रदूषण से मिलेगी राहत, NCR के 8 जिलों में कम हुईं परली जलाने की घटनाएं

चंडीगढ़: हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश में स्थित राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) के आठ जिलों में पराली जलाने (Stubble Burning) की घटनाएं इस साल बहुत घट गई हैं। इस महीने पराली जलाने की कुल 1,795 घटनाएं रिपोर्ट की गई हैं, जो गत वर्ष इसी अवधि में आई 4,854 घटनाओं से कम है। केंद्र के वायु गुणवत्ता आयोग ने शुक्रवार को इस संबंध में जानकारी दी है। 

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) और उससे सटे इलाकों में वायु गुणवत्ता प्रबंधन आयोग (CAQM) ने कहा कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) द्वारा बनाए प्रोटोकॉल पर आधारित एक रिपोर्ट के मुताबिक, धान के अवशेष जलाने की घटनाएं एक माह के दौरान पंजाब में 64.49 फीसद, हरियाणा में 18.28 फीसद और उत्तर प्रदेश के आठ NCR जिलों में 47.61 प्रतिशत कम हुई हैं, जबकि पिछले साल इसी अवधि के दौरान ये घटनाएं ज्यादा थीं।

आयोग ने आगे कहा है कि पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के आठ NCR जिलों में धान के अवशेष जलाने की घटनाओं में इस साल काफी गिरावट आई है, गत वर्षकी तुलना में 2021 में आग लगने की कम घटनाएं रिपोर्ट की गईं। 14 अक्टूबर तक एक महीने में पराली जलाने की कुल 1,795 घटनाएं दर्ज की गईं हैं, जो 2020 में इसी अवधि के दौरान दर्ज की गई 4,854 घटनाओं से बहुत कम हैं। प्रवर्तन एजेंसियों ने पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के NCR जिलों में अभी तक 663 घटनास्थलों का मुआयना किया है।

भाजपा किसान मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक इस माह दिल्ली में होगी समाप्त

चूल्हे-चौके के साथ-साथ गांव की महिलाओं ने संभाला ट्रैक्टर का स्टेयरिंग

यूपी में योगी सरकार बढ़ाएगी सैनिक स्कूलों की संख्या

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -