बड़ी खबर दिल्ली जल्द होगा रेड ज़ोन से बाहर

नई दिल्ली: जिस तरह से आज पूरी दुनिया भर में कोरोना एक खतरनाक साया बनकर मंडरा रहा है, ठीक वैसे ही आज मानवीय पहलू भी इस वायरस का शिकार होता जा रहा है, हर दिन बढ़ती जा रही कोरोना वायरस की मार से आज पूरी दुनिया परेशान है, लगातार बढ़ते खौफ के साथ लोगों का जिंदगी जीना बेहद मुश्किल होता जा रहा है, हर दिन कोई न कोई इस वायरस के आगे अपनी जिंदगी की जंग हार रहे है. जंहा इस बात का ख़ास ख्याल रखते हुए दुनियाभर की सरकार ने  लॉकडाउन जैसे नियमों को और कुछ दिनों के लिए बढ़ा दिया है.

लॉकडाउन-4 में हॉटस्पॉट से बाहर की दिल्ली रेड जोन से बाहर होगी. वहीं, दिल्ली मेट्रो के अलावा बंदिशों के साथ निजी व सार्वजनिक परिवहन सुविधा शुरू हो सकती है, जबकि व्यक्तिगत दूरी नियम के अधीन बाजार भी खुल जाएंगे. निर्माण मजदूरों की आवाजाही पूरी दिल्ली में रहेगी. अब उन्हें निर्माण स्थल पर रुकने की मजबूरी नहीं रहेगी. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के मुताबिक, दिल्ली सरकार केंद्र सरकार की नई गाइडलाइन के हिसाब से दिल्ली को चलाने का खाका तैयार कर रही है. सोमवार को इसे जारी कर दिया जाएगा. दिल्ली सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि  लॉकडाउन-4 में बड़ी सहूलियत रेड जोन को लेकर मिली है. अभी तक दिल्ली के सभी जिले रेड जोन में थे. इससे कोई भी गतिविधि शुरू करने से पहले बहुत माथापच्ची करनी पड़ती है, जबकि दिल्ली सरकार का लॉकडाउन-3 के शुरुआत से मानना था कि पूरी दिल्ली को रेड जोन में डालने की जगह उन इलाकों को ही इसमें शामिल किया जाए, जहां कोरोना वायरस के संक्रमण के मामले हैं. दिल्ली में अभी इन इलाकों की संख्या 76 है. इन इलाकों में पाबंदियां लागू रहने दी जाएं, जबकि दूसरे इलाकों को रियायत दी जाए. 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अधिकारियों का कहना है कि केंद्र की नई गाइडलाइन में रेड, ऑरेंज व ग्रीन जोन तय करने का अधिकार राज्य सरकार को दिया गया है. अब दिल्ली सरकार इलाके के हिसाब से तीनों जोन का निर्धारण करेगी. हॉटस्पॉट वाले इलाके रेड जोन में होंगे, जबकि 500 मीटर से एक किमी के दायरे में आने वाले इलाके ऑरेंज जोन में. इससे बाहर की दिल्ली ग्रीन जोन में होगी.  इसके हिसाब से दिल्लीवालों को लॉकडाउन-4 में रियायत मिलेगी. रेड जोन पूरी तरह बंद होगा. ऑरेंज जोन में ढेर सारी बंदिशों के साथ कुछ गतिविधियों को इजाजत होगी, जबकि ग्रीन जोन खुला  रहेगा. अधिकारी ने बताया कि अभी दिल्ली के लिए कार्ययोजना तैयार हो रही है. इसके बाद लॉकडाउन-4 में दिल्ली की स्थिति ज्यादा स्पष्ट हो सकेगी.

देश में कोरोना ने तोड़े सभी रिकॉर्ड, एक दिन में सामने आए सबसे अधिक मामले

सहमी-सहमी सड़कें, डरा हुआ बाज़ार ! आखिर कैसा होगा लॉकडाउन के बाद का संसार ?

जामिया हिंसा मामले में एक और गिरफ़्तारी, स्टूडेंट इस्लामिक ऑर्गेनाइजेशन का सदस्य है 'आसिफ इक़बाल'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -