तिहाड़ जेल में चेकिंग हुई, तो 7 इंच लम्बा मोबाइल फ़ोन निगल गया कैदी और फिर..

नई दिल्ली: दिल्ली के तिहाड़ जेल में कैद एक अपराधी ने मोबाइल फोन निगल लिया. कुछ दिन बाद उसे पेट दर्द शुरू हो गया. फिर उसे जीबी पंत हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने जब उसका एंडोस्कोपी किया तो वह दंग रह गए. हालांकि, ऑपरेशन के बाद कैदी के पेट से मोबाइल को निकाल लिया गया है. फिलहाल कैदी की हालत स्थिर है.

दरअसल, कुछ दिन पहले तिहाड़ जेल में चेकिंग हुई थी. इस दौरान एक कैदी ने मोबाइल फोन छिपाने के लिए उसे निगल लिया था. इस घटना के कुछ दिन बाद कैदी को पेट में दर्द होने लगा. इसके बाद जेल प्रशासन ने उसे GB पंत अस्पताल में भर्ती करवाया. जब कैदी का मेडिकल टेस्ट किया गया, तो उसके पेट में मोबाइल फोन नज़र आया, जीबी पंत के डॉक्टर सिद्धार्थ ने बताया कि मोबाइल फोन बटन वाला था, 15 जनवरी को एक सर्जरी के बाद हमने फोन निकाल लिया, मरीज पूरी तरह ठीक है. डॉ. सिद्धार्थ ने बताया कि अस्पताल आने के बाद उन्हें पता चला कि मरीज ने फोन निगल लिया है, तो वे फ़ौरन पूरा माजरा समझ गए.

इसके बाद जीबी पंत की मेडिकल टीम ने मरीज की एंडोस्कोपी की. एंडोस्कोपी में लगे कैमरा के माध्यम से उन्होंने फोन की जगह को देख लिया और फिर एक अलग से पाइप लगाकर फोन को धीरे धीरे खींचते हुए शरीर से बाहर निकाल लिया. कीपैड वाला यह फोन साढ़े छह से थोड़ा ज्यादा मगर सात इंच से थोड़ा कम लंबा था.

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इरेडा में 1500 करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दी

ठंड से बचने के लिए घर में जलाया था अलाव, अचानक भड़क उठी आग और धधक उठा पूरा घर...

भारत ने अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर प्रतिबंध 28 फरवरी तक बढ़ाया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -