दिल्ली हिंसा में चौंकाने वाला खुलासा, पथराव में शामिल थीं बंगाली बोलने वाली 300 महिलाएं

By Bhavesh Bakshi
Nov 24 2020 11:37 AM
दिल्ली हिंसा में चौंकाने वाला खुलासा, पथराव में शामिल थीं बंगाली बोलने वाली 300 महिलाएं

नई दिल्ली: दिल्ली में भड़की हिंसा की साजिश की जांच कर रही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने उमर खालिद और शरजील इमाम के खिलाफ UAPA के तहत जो आरोपपत्र दाखिल किए हैं,  उसमें कई हैरान करने वाले दावे किए गए हैं. आरोपपत्र में कहा गया है कि दिल्ली हिंसा में बंगाली बोलने वाली लगभग 300 महिलाओं का उपयोग किया गया था. 

यही नहीं दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके से इन महिलाओं को जाफराबाद एंटी-CAA प्रोटेस्ट साइट पर बुलाया गया था. इन महिलाओं को 7 बसों में बिठाकर जाफराबाद लाया गया था. चार्जशीट के अनुसार, 23 फरवरी को पहले इन्हें बसों में शाहीन बाग के प्रदर्शन स्थल पर ले जाया गया, जहाँ इन महिलाओं को भोजन कराया गया और फिर इसके बाद इन्हें जाफराबाद प्रदर्शन स्थल पर लाया गया था. आरोपपत्र में कहा गया है कि इनमें ज्यादातर महिलाएं बुर्खें में थीं और प्रदर्शन के दौरान पथराव में भी शामिल थीं.

बंगाली बोलने वाली इन महिलाओं को बस के किराए का भी भुगतान किया गया था. आरोपपत्र में कहा गया है कि इस पूरी प्लानिंग का तानाबाना उमर खालिद ने रचा था. स्पेशल सेल का दावा है कि दिल्ली हिंसा में उमर खालिद एक बड़े मास्टरमाइंड के रूप में काम कर रहा था.

कमजोर वैश्विक संकेतों के कारण सोने की कीमतों में आई 1 प्रतिशत की गिरावट

कच्चे तेल की कीमतों में फिर हुई बढ़ोतरी

सेंसेक्स, निफ्टी ने रिकॉर्ड उच्च स्तर को किया पार