साधु बन मंदिर में घुसता 'जहांगीर', यति नरसिंहानंद की हत्या करता..., जैश की साजिश नाकाम

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की पुलिस ने महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती के क़त्ल की साजिश का पर्दाफाश करते हुए एक अपराधी को गिरफ्तार किया है। बता दें कि यति नरसिंहानंद दिल्ली से लगे गाजियाबाद के डासना स्थित शिव-शक्ति पीठ के महंत हैं। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने सोमवार को जान मोहम्मद डार उर्फ़ जहाँगीर को पहाड़गंज के एक होटल से गिरफ्तार किया है। उसके पास से भगवा कपड़ा भी बरामद हुआ है।

रिपोर्टों के मुताबिक, वह महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती के क़त्ल की सुपारी लेकर आया था। वह जम्मू-कश्मीर का निवासी है और पाकिस्तान स्थित अपने आकाओं से निर्देश ले रहा था। पड़ोसी देश में बैठे आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के एक सरगना ने उसे इस हत्याकांड को अंजाम देने के लिए भेजा था। उसे साधु के वेश में मंदिर में घुसकर महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती का क़त्ल करना था। दिल्ली पुलिस ने उसके पास से एक पिस्टल और 2 मैगजीन के साथ ही 15 कारतूस भी बरामद किए हैं। उसने पूछताछ में आबिद नाम के अपने एक आका के बारे में जानकारी दी है, जो उसे पाकिस्तान से निर्देश दे रहा था। व्हाट्सएप्प के माध्यम से जहांगीर उसके संपर्क में रहता था। आबिद ने उसे महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती का एक वीडियो दिखाया था और फिर उनके क़त्ल के लिए उकसाया था। इसके लिए जहाँगीर को हथियार चलाने का प्रशिक्षण भी दिया गया था। आबिद ने काम हो जाने पर रुपए देने की बात भी कही थी।

जानकारी के अनुसार, जहाँगीर अप्रैल 23, 2021 को ही कश्मीर से दिल्ली के लिए रवाना हुआ था। दिल्ली में उमर नाम का एक व्यक्ति उसका इंतजार कर रहा था, जिससे उसकी मुलाकात होनी थी। उमर और जहाँगीर टेलीग्राम के माध्यम से एक-दूसरे के संपर्क में थे। उमर ने ही दिल्ली में उसके लिए ठहरने का प्रबंध करने का जिम्मा उठाया था। जहाँगीर जब दिल्ली के लिए निकला, उसी दिन उसके बैंक अकाउंट में 35,000 रुपए भी डाले गए थे। बता दें कि, दिल्ली पुलिस जहाँगीर से अब भी पूछताछ कर रही है, जिसमें कई नए राज खुल सकते हैं। बता दें कि आरोपित के पास से जिस तरह पूजा सामग्री, कलावा और कुमकुम बरामद हुआ है, उससे साफ़ है कि वह साधु के वेश में मंदिर में घुसने में सफल हो सकता था। लखनऊ में हिन्दू नेता कमलेश तिवारी का क़त्ल भी भगवा कपड़ा पहने आरोपितों ने की थी।

बढ़ते कोरोना के बीच दिल्ली एयरपोर्ट का बड़ा फैसला, आज रात से बंद हो जाएगा टर्मिनल T2

पर्यटकों के लिए फिर से शुरू हुआ इटली अंतरराष्ट्रीय पार्क

अपनी इस फिल्म के हिंदी रीमेक में काम नहीं करना चाहती नेशनल क्रश रश्मिका मंदाना, जानिए क्यों?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -