11 साल की बच्ची को किडनैप कर सालों तक किया बलात्कार... तीन बच्चे भी पैदा किए और फिर...

नई दिल्ली: नाबालिग के अपहरण और उसके साथ कई सालों तक दुष्कर्म करने का हैरतअंगेज़ मामला प्रकाश में आया है। एक 11 वर्षीय बच्ची को 32 वर्षीय व्यक्ति ने किडनैप कर लिया था और वह सात वर्षों तक उसके साथ रेप करता रहा। इस बीच लड़की तीन बच्चों की मां भी बनी। इसके बाद आरोपी उसे छोड़कर फरार हो गया। घटना के 13 वर्षों के बाद आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा है। रोहिणी कोर्ट स्थित अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश किरण गुप्ता की कोर्ट के समक्ष दिल्ली पुलिस द्वारा पेश की गई रिपोर्ट में कहा है कि बलात्कार की वजह से जन्मे तीनों बच्चों की उम्र इस वक़्त 6 से 10 वर्ष के बीच है। इनकी परवरिश का मुद्दा अहम है। हालांकि, अभी इन बच्चों को एक सरंक्षण गृह में रखा गया है। वहीं, पीड़िता को उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया है। अब 45 वर्ष के हो चुके आरोपी ओम प्रकाश को कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। 

क्या है पूरा मामला :-

यह घटना वर्ष 2009 में भारत नगर इलाके की थी। भारत नगर थानाध्यक्ष प्रेम कुमार सिंह द्वारा कोर्ट में पेश की गई रिपोर्ट में बताया गया कि 11 साल की बच्ची को पड़ोस में ही रहने वाले शख्स ने किडनैप कर लिया था। वह बच्ची को लेकर बिहार चला गया था। पुलिस ने बच्ची की खोजबीन जारी रखी। आखिरकार 24 अक्टूबर 2021 को लड़की को नरेला स्थित एक झुग्गी से बरामद कर लिया गया। अब 24 वर्षीय हो चुकी पीड़िता ने बताया कि आरोपी उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। वर्ष 2012 में 14 वर्ष की आयु में पहला बच्चा हुआ था। वर्ष 2016 तक बलात्कार के चलते उसने दो और बच्चों को जन्म दिया। इसके बाद आरोपी उसे वहीं छोड़कर फरार हो गया। तीन बच्चों की मां बनने के कारण बदनामी के डर से वह घर वापस लौटने की जगह दिल्ली लौटी और नरेला में एक झुग्गी में रहने लगी। यहां कूड़ा बीनकर बच्चों की गुजर-बसर करने लगी।

इस मामले में कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को कहा है कि वह अभियोजन पक्ष के साथ सलाह-मशविरा करे कि क्या अपहरण व दुष्कर्म के आरोपों के साथ ही आरोपी के खिलाफ Pocso की धाराएं जोड़ी जा सकती हैं, क्योंकि, बच्ची का जन्म वर्ष 1998 में हुआ है और घटना के वक़्त वह महज 11 वर्ष की थी। 14 साल की आयु में उसे पहली संतान हुई थी। ये तमाम तथ्य बाल यौन शोषण रोकथाम अधिनियम (Pocso) के अंतर्गत आते हैं। पुलिस को अभी इस बाबत रिपोर्ट दायर करनी है। पीड़ित की आपबीती सुनने के बाद पुलिस ने आरोपी को लेकर तमाम जानकारियां एकत्रित की। आरोपी को पुलिस ने 30 मार्च 2022 को कानपुर के पिपरिया थानाक्षेत्र से पकड़ा था। आरोपी को दिल्ली लाकर रोहिणी कोर्ट में पेश किया।

मंदिर में फंदे पर लटके मिले प्रेमी-प्रेमिका के शव, हत्या की आशंका के साथ जांच शुरू

बिहार में पत्रकार की सरेआम गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

गुजरात में सात साल की बच्ची से रेप,आरोपी की तलाश ज़ारी

 

Most Popular

- Sponsored Advert -