ओवैसी के घर पर हिन्दू सेना ने चलाए ईंट-पत्थर, 5 आरोपी गिरफ्तार

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के अशोका रोड स्थित AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी के सरकारी बंगले में तोड़फोड़ का मामला प्रकाश में आया है। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में हिन्दू सेना से संबंधित पांच लोगों को अरेस्ट किया है। हिंदू सेना के कार्यकर्ताओं ने असदुद्दीन ओवैसी के आवास के बाहर लगे नेमप्लेट और ट्यूबलाइट को नुकसान पहुंचाया है। 

दिल्ली पुलिस के DCP दीपक यादव ने मीडिया से बात करते हुए बताया है कि उन्होंने तोड़फोड़ करने वाले पांच लोगों को अरेस्ट किया है। गिरफ्तार किए गए सभी आरोपी पूर्वी दिल्ली के मंडोली इलाके के निवासी हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि पुलिस ने मौके से ही आरोपियों को पकड़ा है। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने स्वीकार किया कि वे ओवैसी द्वारा की गई टिप्पणी से खफा थे। पुलिस अधिकारी ने बताया कि दिल्ली पुलिस के PCR पर एक फ़ोन आया कि कुछ लोग ओवैसी के दिल्ली आवास में तोड़फोड़ कर रहे हैं। जिसके बाद पुलिस फ़ौरन घटनास्थल पर पहुंची और तोड़फोड़ कर रहे सभी आरोपियों को अरेस्ट कर लिया। उन्होंने कहा कि जब तक पुलिस वहां पहुंचती तबतक उपद्रवियों ने घर के मेन गेट और खिडकियों में तोड़फोड़ कर दी थी।

हिंदू सेना के लोगों ने जिस वक़्त बंगले पर हमला किया, उस वक़्त सांसद असदुद्दीन ओवैसी वहां मौजूद नहीं थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बंगले की देखभाल करने वाली ने पत्रकारों को बताया कि लगभग 7-8 लोग घर के बाहर खड़े होकार नारेबाजी कर रहे थे और घर के बाहरी हिस्सों में तोड़फोड़ कर रहे थे। वे लोग घर के भीतर भी ईंट फेंक रहे थे। अपने सरकारी आवास पर हुई तोड़फोड़ की घटना पर ओवैसी ने आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि पता नहीं इससे विश्व में क्या सन्देश जा रहा है। ओवैसी ने कहा कि लोग रेडिकलाइज हो चुके हैं और इसकी जिम्मेदारी भाजपा सरकार पर आती है। यदि एक सांसद के घर इस प्रकार से हमला होता है, तो देश में और दुनिया में क्या संदेश जा रहा है।

पंजाब: कैबिनेट 'चन्नी' का, लेकिन टीम पूरी सिद्धू की, कैप्टन खेमे की छुट्टी करने में जुटी कांग्रेस

'मेरी माँ को ईसाई बना दिया..', भाजपा विधायक ने कर्नाटक विधानसभा में उठाया 'धर्मान्तरण' का मुद्दा

ब्रिटेन ने रूस और चीन से अफगानिस्तान के दृष्टिकोण पर सहमत होने का किया आह्वान

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -