महिलावादी संगठन ‘पिंजरा तोड़’ की दो महिला कार्यकर्ता गिरफ्तार, दिल्ली दंगों में संलिप्तता का आरोप

May 23 2020 11:20 PM
महिलावादी संगठन ‘पिंजरा तोड़’ की दो महिला कार्यकर्ता गिरफ्तार, दिल्ली दंगों में संलिप्तता का आरोप

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने महिलावादी संगठन ‘पिंजरा तोड़’ की दो महिला कार्यकर्ताओं को अरेस्ट किया है। उन दोनों का नाम नताशा और देवांगना बताए गए है। अभी तक उनके बारे में अधिक जानकारी नहीं मिल पाई है। बताया जा रहा है कि दिल्ली में दंगे भड़काने में इन दोनों का हाथ था। पत्रकार राजशेखर झा ने इस बारे में ट्वीट करते हुए जानकारी दी है। बता दें कि ‘पिंजरा तोड़’ संगठन का नाम पहले भी इस तरह के कामों में आ चुका है।

opIndia की रिपोर्ट के अनुसार, कुछ प्रबुद्ध सामाजिक वर्ग के लोगों और ‘पिंजरा तोड़’ जैसे कथित सामाजिक संगठनों की वजह से दिल्ली यमुना के आसपास रहने वाले लोग काफी परेशानी में थे। यहाँ के स्थानीय लोग इनके कारण पीड़ित और दुःखी महसूस कर रहे थे। ये संगठन और कथित प्रबुद्ध जन रोज़ाना हिंसा भड़काने के काम में लगे रहते हैं और आज इन लोगों ने जाफराबाद मेन रोड को ही जाम कर दिया था। इससे राहगीरों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था।

दरियागंज दिल्ली गेट पर इसी ‘पिंजरा तोड़’ के वर्कर्स और नेताओं की पुलिस के साथ झड़प भी हुई थी, किन्तु इनमें से किसी एक को भी अरेस्ट नहीं किया गया था। वो सभी हिंसक हरकतें कर के फरार हो गए हुए थे। फँस गए स्थानीय लोग। कई स्थानीय लोग आज भी पुलिस केस और अदालती कार्रवाइयों का सामना कर रहे हैं। 

भारत फिर भरेगा उड़ान, 25 मई को दिल्ली एयरपोर्ट से रवाना होगी पहली फ्लाइट

प्रमोद प्रेमी यादव का Sad सांग मचा रहा धमाल, यहां देखे वीडियों

SBI : इस नंबर पर मिस्ड कॉल करके आसानी से जान सकते है अकाउंट बैलेस