पुलिस देगी NRI ट्रांसजेंडर को सिक्युरिटी

Sep 23 2015 12:50 PM
पुलिस देगी NRI ट्रांसजेंडर को सिक्युरिटी

नई दिल्ली : अपने परिवार द्वारा जबरन भारत लाई गई 19 वर्षीय NRI ट्रांसजेंडर को दिल्ली हाईकोर्ट ने पुलिस सुरक्षा देने के निर्देश दिए हैं. कोर्ट में दाखिल याचिका में ट्रांसजेंडर ने कहा था कि उसके पिता उत्तर प्रदेश के एक बिजनेसमैन हैं और उन्होंने स्टेट मशीनरी का सहारा लेकर उसकी जिंदगी में दखलन्दाजी की. इससे उसकी आजादी और शिक्षा जैसे अधिकार भी छीन लिए गए और उसकी जबरन शादी भी करानी चाही. हाईकोर्ट द्वारा UP के रेजिडेंट कमिश्नर और ट्रांसजेंडर के पिता को इस मामले में नोटिस जारी कर जवाब मांगा है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार जब विक्टिम 3 साल की थी, तो वह परिवार के साथ कैलिफोर्निया चली गई थी. वहाँ उसके पेरेंट्स उसे बहुत रोकते टोकते थे और बात न मामने पर उसके साथ मारपीट भी करते थे. वह चाहते थे कि विक्टिम उनके हिसाब से रहे, लेकिन जब बात नहीं बनी तो वे उसे दादी की बीमारी का बहाना बनाकर भारत ले आए और उसका पासपोर्ट और ग्रीन कार्ड छीनकर उसे भारत में रहने को मजबूर किया.

इस साल जुलाई में उसका एडमिशन आगरा के दयालबाग एजुकेशनल इंस्टीट्यूट में करा दिया गया. इसके बाद विक्टिम ने नेशनल सेंटर फॉर लेस्बियन राइट्स, यूएस से संपर्क किया. विक्टिम का कहना है कि वह वापस US जाना चाहती है.