अब फाइव स्टार होटल में ठहराए जाएंगे कोरोना मरीज, दिल्ली सरकार ने लिया बड़ा फैसला

नई दिल्ली: दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले रोज़ाना काफी तेजी से बढ़ रहे हैं और महामारी के प्रसार में कोई कमी नहीं आई है। हालांकि जैन ने, एक बार फिर कहा कि लॉकडाउन स्थिति का समाधान नहीं है और बीमारी से निपटने के लिए लोगों को आवश्यकता पड़ने पर ही बाहर निकलने, सभाओं से बचने, मास्क पहनने और कोरोना उचित व्यवहार का पालन करने की सलाह दी है।

बुधवार को स्वास्थ्य सचिव ने निजी अस्पतालों को आदेश जारी किए कि आसपास के होटलों में भी प्रबंध किया जाए। पांच सितारा होटल के लिए अधिकतम 5 हजार रुपए और चार सितारा होटल के चार हजार रुपए रोज़ाना शुल्क भी तय किया गया है। स्वास्थ्य सचिव ने आदेश दिया कि सेंट्रल दिल्ली में लोकनायक अस्पताल के पास शहनाई और राउज एवेन्यू स्कूल में 240 बिस्तरों का प्रबंध किया जाए। उत्तरी पश्चिमी जिले में बाबा भीमराव आंबेडकर अस्पताल के पास ग्रांड उत्सव बैंक्वेट हाल में 75 और दीपचंद बंधु अस्पताल के पास मासिक सैन्डोज बैंक्वेट हाल में 250 बिस्तरों का प्रबंधन करने को कहा गया है। 

इन स्थानों पर अस्पताल से स्वास्थ्य कर्मचारियों की भी तैनाती की जाएगी। स्माइल डॉक्टर एनजीओ भी इसमें सहायता करेगा। वहीं जैन ने कहा कि लोकनायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल में हर दिन 70-80 मरीज भर्ती हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि तक़रीबन 80 लोगों को मंगलवार रात को राजीव गांधी अति विशिष्ट अस्पताल में एडमिट कराया गया।

दूसरी बार कोरोना की चपेट में आए केरल के मंत्री सुनील कुमार, बेटा भी संक्रमित

कोरोना की चपेट में आए वरिष्ठ DMK नेता टी आर बालू, ले चुके है कोरोना वैक्सीन की पहली डोज

मोदी सरकार ने लोगों को उनके हाल पर छोड़ दिया है: रणदीप सुरजेवाला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -