महज 91 दिनों में केजरीवाल सरकार ने विज्ञापन में खर्च कर दिए 15 करोड़

नई दिल्ली : सरकारी विज्ञापनों को लेकर चर्चा में रहने वाली दिल्ली सरकार ने विज्ञापन की नई इबारत ही लिख डाली है। केजरीवाल सरकार अखबारों में विज्ञापन पर 15 करोड़ रुपए खर्च करती है। आम आदमी पार्टी की सरकार ने 10 फरवरी से लेकर 11 मई तक करीब 91 दिन में केवल प्रिंट मीडिया में विज्ञापन पर ये रकम खर्च की है।

यह जानकारी सूचना के अधिकार के तहत प्राप्त हुई है। इस दौरान जो सबसे अहम और दिलटस्प बात पता चली है वो ये ही कि केजरीवाल सरकार से विज्ञापन के प्रकाश के लिए धन प्राप्त करने वाली प्रकाशनों में केरल, ओड़िशा, कर्नाटक व तमिलनाडु समेत कई राज्यों के दैनिक अखबार है। अधिवक्ता अमन पवार ने आरटीआई में इस संबंध में आवेदन दिया था।

इसके जवाब में उन्हें बताया गया कि सरकार ने 91 दिनों में विज्ञापन पर 14.56 करोड़ रुपए खर्च किए है। यह बात सामने आने के बाद कांग्रेस ने आप को निशाने पर लिया है। कांग्रेस नेता अजय माकन का कहना है कि एक ओर सरकार के पास सफाई कर्मियों को देने के लिए पैसे नहीं है और दूसरी ओर वो विज्ञापन पर बेतहाशा खर्च कर रहे है।

हाल ही में लोकसभा में बताया गया था कि दिल्ली सरकार ने जनवरी और अप्रैल के दो चरणों में सम-विषम योजना के विज्ञापन पर करीब पांच करोड़ रुपये खर्च किए।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -